BREAKING
अंबेडकर विश्वविद्यालय के दो नए कैम्पस बनाएगी केजरीवाल सरकार, विभिन्न कोर्सों में 26 हजार से अधिक विद्यार्थियों को मिल सकेगा दाखिला 'दिल्ली मॉडल' को लगातार मिल रही वैश्विक पहचान; संयुक्त राष्ट्र महासभा के बाद अब स्वीडन में ‘Malmö Summit: ICLEI World Congress 2021-22’ को संबोधित करेंगी आतिशी हिमाचल में आम आदमी पार्टी हुई और मजबूत, वेटरंस इंडिया भूतपूर्व सैनिक संगठन के राष्ट्रीय महासचिव समेत हिमाचल की नौ नामी एवं प्रभावशाली हस्तियां हुई “आप” में शामिल देहरा में भी चला आपका झाड़ू जहांगीरपुरी दंगों का मुख्य आरोपी अंसार, भाजपा का नेता है, उसने भाजपा की पार्षद प्रत्याशी संगीता बजाज को चुनाव लड़वाने में प्रमुख भूमिका निभाई हिमाचल प्रदेश में भाजपा ने खोई सारी विश्वसनीयता, आप को विकल्प के रूप में देख रहे लोग: मनीष सिसोदिया पंजाब में जल्द होगा बड़ा ऐलान, "आप" के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल से मुलाकात के बाद पंजाब के सीएम सरदार भगवंत मान ने ट्वीट कर दी जानकारी महिलाओं के खिलाफ गंदी हरकत के आरोपी को हथियार बना आम आदमी पार्टी से हिमाचल में लड़ेगी भाजपा तीन दिन में ही "मान" ने कर दिया कमाल "मान मंत्रिमंडल" में 10 मंत्री शामिल

ग्रीन दिल्ली ऐप पर आई प्रदूषण संबंधी 94 प्रतिशत शिकायतों का निपटारा किया गया: Gopal Rai

Updated on Monday, April 25, 2022 17:24 PM IST
 ग्रीन दिल्ली ऐप पर आई प्रदूषण संबंधी 94 प्रतिशत शिकायतों का निपटारा किया गया: Gopal Rai
  • ग्रीन ऐप के माध्यम से अभी तक 42 हजार 147 शिकायतें आई, जिनमें से 39 हजार 438 शिकायतें दूर हुई हैं, सबसे ज्यादा शिकायत एमसीडी, डीडीए और पीडब्ल्यूडी के आयीं, ग्रीन दिल्ली ऐप से 29 विभाग जुड़े है: गोपाल राय
  • ग्रीन दिल्ली ऐप के माध्यम से दिल्ली का कोई भी नागरिक प्रदूषण संबंधी शिकायत कर सकता है, जिसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी, ग्रीन ऐप पर आई शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने के लिए विभागों को निर्देश: गोपाल राय

नई दिल्ली. आप की क्रांति।  केजरीवाल सरकार प्रदूषण से संबंधित ग्रीन दिल्ली ऐप पर मिली 94 प्रतिशत शिकायतों का निपटारा कर चुकी है। ऐप के माध्यम से अभी तक 42 हजार 147 शिकायतें आई, जिनमें से 39 हजार 438 से ज्यादा शिकायत दूर हुई हैं| सबसे ज़्यादा शिकायते एमसीडी, डीडीए और पीडब्ल्यूडी के विभागों की दर्ज कराई गई है | ग्रीन दिल्ली ऐप के माध्यम से दिल्ली का कोई भी नागरिक प्रदूषण संबंधी शिकायत कर सकता है। जिसके आधार पर कार्रवाई की जाती है। पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि एंटी रोड डस्ट और एंटी ओपन बर्निंग अभियान के सभी दर्ज आंकड़ों पर भी ग्रीन वॉर रूम की टीमें कड़ी निगरानी बनाए हुए है | जिनके आधार पर सभी विभागों की तैनात टीमें उचित कदम उठा रही है |उन्होंने कहा कि समर एक्शन प्लान की सबसे अहम कड़ी ग्रीन दिल्ली ऐप और ग्रीन वार रूम है जो कि दिल्ली के दो करोड़ लोगों को सीधे इस प्रदूषण के खिलाफ युद्ध से जोड़ता है। दिल्ली का कोई भी नागरिक ऐप के माध्यम से प्रदूषण की शिकायत को वार रूम तक पहुंचा सकता है। जिसके माध्यम से सरकार आगे का एक्शन लेती है।

शिकायतों पर एक नज़र

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने जारी किए गए आंकड़ों के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि ग्रीन दिल्ली ऐप के माध्यम से मिले आंकड़ों के अनुसार सबसे ज़्यादा प्रदूषण की शिकायतों में सड़कों पर गड्ढे , सड़क किनारे अवैध रूप से कूड़ा फेंकना , रोड डस्ट , निर्माण और विध्वंस अपशिष्ट की डंपिंग , निर्माण या विध्वंस के कारण पैदा हुई धूल प्रदूषण जैसे मामले शामिल है | उन्होंने कहा कि अभी तक इस ऐप का परिणाम बेहतर रहा है और इसी ऐप के माध्यम से अभीतक दर्ज 42 हज़ार 147 शिकायतों में से विभाग करीबन 39 हज़ार 438 शिकायतों को दूर कर चुका है। उनमें सबसे ज्यादा शिकायतें 3 विभागों की आयी हैं, जिनमे नगर निगम, डीडीए और पीडब्ल्यूडी शामिल है | इन सभी विभागों पर विशेष ध्यान देकर उचित कार्रवाई की जा रही है |

ग्रीन दिल्ली ऐप से 29 विभाग जुड़े है

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने ग्रीन ऐप की खूबियों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि पिछले साल तक जहाँ यह ऐप केवल एंड्रॉयड फोन पर था, वही आज यह आईफोन (आईओएस) यूजर्स के लिए भी उपलब्ध है | ऐप दिल्ली के 29 विभाग का संयुक्त प्लेटफार्म है। ग्रीन दिल्ली ऐप पर जितनी शिकायतें आती हैं, उनपर सभी संबंधित विभागों के साथ मिलकर संयुक्त कार्रवाई की जाती है | जिसमें केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार, नगर निगम के विभाग भी शामिल हैं। इस ऐप को संचालित करने के लिए हर विभाग में नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

ग्रीन वॉर रूम कैसे रखता है दिल्ली पर नज़र

ग्रीन वार रूम में मुख्य तौर पर तीन तरह से निगरानी की जाती है। जिसमें अलग-अलग मॉनिटरिंग सेंटर लगे हुए हैं। उन सेंटर की रिपोर्ट को यहां से रोजाना मॉनिटर किया जाता है | ऐप के माध्यम से जहां से ज्यादा शिकायतें आती हैं, उनकी निगरानी का काम भी यहीं से होता हैं।
पर्यावरण मंत्री ने बताया कि हमारे यहां डीपीसीसी के इंजीनियर वार रूम के साथ जुड़कर फील्ड में एक्शन लेने और निगरानी करने का काम करते है | इसके साथ 70 ग्रीन मार्शल हैं जो इस वार रूम से जुड़े हैं और जो एक टास्क फोर्स के रूप में काम करते हैं। जब कोई प्रदूषण की शिकायत आती है तो ग्रीन वार रूम से संबंधित विभाग को उसके बारे में सूचित किया जाता हैं। सम्बंधित विभाग समस्या को दूर करने के बाद ग्रीन वॉर रूम को शिकायत दूर का मैसेज देता है | जिसके बाद ग्रीन मार्शल की टास्क फोर्स ग्राउंड पर जाकर रियलिटी चेक करती है कि हकीकत में वह समस्या दूर हुई या नहीं हुई है।

ग्रीन दिल्ली ऐप पर की जा सकती है यह सभी शिकायतें

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि ग्रीन दिल्ली ऐप को लेकर एक सवाल आता है कि हम कौन सी शिकायत करें। ग्रीन दिल्ली ऐप पर निम्नलिखित तरह की शिकायतें की जा सकती हैं- औद्योगिक प्रदूषण, पार्क में पत्तियां-बायोमास जलने की शिकायतें, कूड़ा या प्लास्टिक वेस्ट जलने की शिकायत, निर्माण-डिमोलिशन गतिविधि से होने वाली धूल प्रदूषण से संबंधित शिकायत, सीएनडी वेस्ट सड़क किनारे या खाली जगह पर फेके जाने की शिकायत, सड़क किनारे या खाली जगह पर कूड़ा फेंके जाने या जलाए जाने की शिकायत, गाड़ी द्वारा ज्यादा धुआं छोड़ने की शिकायत, रोड पर गड्डे ज्यादा हैं और वहां से धूल निकलने से प्रदूषण की शिकायत तथा ध्वनि प्रदूषण की शिकायत इत्यादि ग्रीन दिल्ली ऐप पर की जा सकती है।

ग्रीन ऐप पर आई शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने के लिए विभागों को निर्देश

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया की ग्रीन दिल्ली ऐप पर आई शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने के लिए सभी सम्बंधित विभागों को निर्देश दिए गए है | दिल्ली के सभी निवासियों से अपील है कि ज़्यादा से ज़्यादा इस ऐप को डाउनलोड कर, वह दिल्ली के प्रदूषण को कम करने कि मुहीम में सरकार के साथ जुड़े और दिल्ली को एक स्वच्छ शहर बनाने में सरकार की सहायता करें |

मुण्डका में जान बचाने वाले फरिश्तों से मिलकर उनकी बहादुरी और एकजुटता को सराहा मुख्यमंत्री केजरीवाल ने

: मुण्डका में जान बचाने वाले फरिश्तों से मिलकर उनकी बहादुरी और एकजुटता को सराहा मुख्यमंत्री केजरीवाल ने

मुंडका आग में सभी मासूमों की मौत के लिए सिर्फ बीजेपी एमसीडी जिम्मेदार

: मुंडका आग में सभी मासूमों की मौत के लिए सिर्फ बीजेपी एमसीडी जिम्मेदार

आप” की दिल्ली सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के क्षेत्र में देश को अच्छा मॉडल दिया, “आप” की पंजाब सरकार किसानों की आय बढ़ाने की कोशिश कर रही है- अरविंद केजरीवाल

: आप” की दिल्ली सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली के क्षेत्र में देश को अच्छा मॉडल दिया, “आप” की पंजाब सरकार किसानों की आय बढ़ाने की कोशिश कर रही है- अरविंद केजरीवाल

प्रदूषण के खिलाफ़ केजरीवाल सरकार की मुहीम हुई तेज़, 1 जून से दिल्ली सचिवालय में  सिंगल यूज़ प्लास्टिक उत्पादों पर लगेगा बैन - गोपाल राय

: प्रदूषण के खिलाफ़ केजरीवाल सरकार की मुहीम हुई तेज़, 1 जून से दिल्ली सचिवालय में सिंगल यूज़ प्लास्टिक उत्पादों पर लगेगा बैन - गोपाल राय

केजरीवाल सरकार की मंजूरी पर दिल्ली में दंत चिकित्सकों के कैडर का गठन, अब आसान होगी नई भर्तियां

: केजरीवाल सरकार की मंजूरी पर दिल्ली में दंत चिकित्सकों के कैडर का गठन, अब आसान होगी नई भर्तियां

पुरानी पेंशन बहाल करेगी आम आदमी पार्टी की सरकार

: पुरानी पेंशन बहाल करेगी आम आदमी पार्टी की सरकार

 हिमाचल में ईमानदार और स्वच्छ छवि के लोगों से लगातार बढ़ता जा रहा पार्टी का जनाधार

: हिमाचल में ईमानदार और स्वच्छ छवि के लोगों से लगातार बढ़ता जा रहा पार्टी का जनाधार

हिमाचल प्रदेश में शिक्षा के नाम पर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही जयराम सरकार

: हिमाचल प्रदेश में शिक्षा के नाम पर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही जयराम सरकार

बड़ी सौगात: इस मानसून तिमारपुर विधानसभा को मिलेगा जलभराव से छुटकारा

: बड़ी सौगात: इस मानसून तिमारपुर विधानसभा को मिलेगा जलभराव से छुटकारा

नालंदा मेडिकल अस्पताल में आप नेताओं ने टीबी मरीज से की मुलाकात

: नालंदा मेडिकल अस्पताल में आप नेताओं ने टीबी मरीज से की मुलाकात

X