Friday, July 30, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
दिल्ली और गोवा के ऊर्जा मंत्री में बिजली पर बेहतरीन बहस, भाजपा ने स्वीकार किया कि AAP की पॉलिसी सही है‘आप’ ने पर्यावरणविद स्व. सुंदरलाल बहुगुणा पर हुई ओंछी टिप्पणी के विरोध में भाजपा कार्यालय का किया घेराव प्रदर्शन दिल्ली के सिर पर मंडरा रहे जल संकट के लिए हरियाणा की खट्टर सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार- राघव चड्ढाभाजपा शासित हरियाणा सरकार ने 24 घंटे में यदि दिल्ली के हक का पूरा पानी नहीं दिया तो भाजपा के दिल्ली अध्यक्ष आदेश गुप्ता के पानी कनेक्शन को काट दिया जाएगा- सौरभ भारद्वाज दिल्ली महिला आयोग बेहतरीन काम कर रहा है, वर्तमान आयोग के एक और कार्यकाल को मंजूरी दी गई है- अरविंद केजरीवालजिम्मेदार और संवेदनशील सरकार होने के नाते हमारा फर्ज है, हम कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों की मदद करें - अरविंद केजरीवालडीएसईयू के 13 कैम्पसों में 15 डिप्लोमा,18 स्नातक और 2 पोस्ट-ग्रेजुएशन कोर्स के लिए किया जा सकेगा आवेदनहमें तय करने की ज़रूरत कि बच्चों को पढ़ाना है या उन्हें पढ़ना सिखाना है: उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया
National

पुलिस ने अपराधियों की तरह मुझे पांच घंटे तक सड़क पर घुमाया और जब मैंने जमानत लेने से इन्कार कर दिया, तो मुझे छोड़ दिया- सुशील गुप्ता

रविंद्र कुमार | June 23, 2021 01:55 AM

हरियाणा। आम आदमी पार्टी ने दिल्ली बाॅर्डर पर स्थित हरियाणा के खोरी गांव को तोड़ने का आदेश दिए जाने का कड़ा विरोध किया है। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य सुशील गुप्ता ने कहा कि वह खोरी गांव को तोड़ने के आदेश के खिलाफ पीएम को ज्ञापन देने जा रहे थे, लेकिन दिल्ली और फरीदाबाद पुलिस ने गैरकानूनी तरीके से मुझे और मेरे साथियों को हिरासत में लिया। पुलिस ने अपराधियों की तरह मुझे पांच घंटे तक सड़क पर घुमाया और जब मैंने जमानत लेने इन्कार कर दिया, तो मुझे छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि इस मामले में केंद्र सरकार ने मजबूत पैरवी नहीं की और हरियाणा सरकार ने अनदेखी की, जिसके चलते सुप्रीम कोर्ट ने खोरी गांव को तोड़ने का आदेश दिया है। हरियाणा सरकार ने लोगों का बिना पुनर्वास किए ही गांव को तोड़ने का आदेश दे दिया है। हमारी मांग है कि हरियाणा सरकार सबसे पहले खोरी गांव में रहने वाले लोगों का पुनर्वास करे और हिरासत में लिए गए हमारे सहयोगियों को तत्काल छोड़ा जाए।

5 घंटे तक मुझे अलग-अलग थानों के अंदर और अलग-अलग सड़कों पर घूमाते रहे। मेरे सारे टेलीफोन ले लिए गए और हमारे सहयोगी फरीदाबाद के जिला अध्यक्ष अभी तक बंद हैं। मेरे ऑफिस से अब्दुल रहीम, हिसार के अध्यक्ष संजय भूरा समेत कई लोगों को अभी भी फरीदाबाद पुलिस डिटेन की हुई है। अभी पुलिस उनके खिलाफ कोई केस नहीं बना पाई है और न तो उन पर कोई केस बनता है।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य सुशील गुप्ता ने मंगलवार को पार्टी मुख्यालय में एक महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली के बाॅर्डर पर हरियाणा के फरीदाबाद में खोरी गांव करीब 40-50 साल से बसा हुआ है। खोरी गांव की करीब एक लाख की आबादी है और ज्यादातर लोग बिहार और उत्तर प्रदेश से आकर रहते हैं। हरियाणा सरकार ने खोरी गांव खाली कराने का आदेश नगर निगम को दे दिया है। खोरी गांव की एक लाख की आबादी में गर्भवती महिलाएं, बुजुर्ग, बच्चे भी हैं और वे मजदूर भी हैं, जिन्होंने अपने सिर पर टोकरी ढोकर फरीदाबाद का निर्माण किया। जो फरीदाबाद के लोगों के घरों के अंदर चूल्हा चैका और सफाई का काम करते हैं। इन लोगों ने अपनी पूरी जिंदगी की जमा पूंजी बचा कर जमीन खरीदी और मकान बनाया। वहां पर उनके बच्चे पैदा हुए, उनकी शादी हुई।

उन्होंने कहा कि पिछले 30 साल से वहां नगर निगम का प्राथमिक विद्यालय भी चल रहा है, परंतु आज अचानक उस गांव को तोड़ने का सुप्रीम कोर्ट का आदेश आया। भारत सरकार ने उसके अंदर अपनी पैरवी मजबूती से नहीं की, जबकि हरियाणा सरकार ने पूरी अनदेखी की और अब बिना पुनर्वास किए उस गांव को उजाड़ने में लगे हुए हैं। हमने उस गांव के पुनर्वास की मांग की थी। आज से पहले बीसियों बार मैं हरियाणा के मुख्यमंत्री व राज्यपाल लिख चुका हूं। मानवता के आधार पर मैने भारत के राष्ट्रपति को भी लिखा और प्रधानमंत्री को भी लिखा। परंतु उस गांव को तोड़ने के लिए आमादा हैं और किसी प्रकार का पुनर्वास की तैयारी हरियाणा सरकार के द्वारा नहीं की गई और न तो कोई ऐसी विस्तृत योजना बनाई। मैंने प्रधानमंत्री कार्यालय को कल निवेदन किया कि मैं ज्ञापन देने के लिए खोरी गांव के लोगों के साथ आपके पास आऊंगा। मैं फरीदाबाद से चलूंगा और साथ में खोरी गांव के लोग होंगे। मैंने हरियाणा पुलिस के डीजीपी, फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर और दिल्ली पुलिस के पुलिस कमिश्नर को सूचना दी।

राज्यसभा सदस्य सुशील गुप्ता ने कहा कि सुबह 7 बजे जब मैं पहुंचा तो अवैध तरीके से हरियाणा पुलिस ने मुझे डिटेल किया। पहले मुझे सराय ख्वाजा पुलिस स्टेशन लेकर गए। फिर सड़क पर लेकर मुझे घूमते रहे, जैसे मैं कोई गुंडा या अपराधी हूं। वहां पर हरियाणा पुलिस के एसीपी मोजीराम थे और दिल्ली पुलिस के एसीपी अजय कुमार थे। दोनों पुलिस ने मिलकर मुझे लगभग 5 घंटे तक सड़क पर घुमाया। पहले मुझे सराय ख्वाजा पुलिस लेकर गए, उसके बाद बीपीटी पुलिस स्टेशन फरीदाबाद लेकर गए और इसके बाद सेक्टर-37 पुलिस स्टेशन फरीदाबाद लेकर गए। करीब 4ः30 घंटे के बाद वे मेरे खिलाफ कोई केस बनाकर लाए और कहा कि आप जमानत के लिए आवेदन करें। धारा 107/51 में आपको बंद कर रहे हैं। मैंने कहा कि मैं बंद रहना पसंद करूंगा। मैं खोरी गांव के लोगों की आवाज जेल में बैठकर उठाउंगा। मैं कोई जमानत नहीं लूंगा। अगर मैंने कोई अपराध किया है, तो आप मुझे बंद करें, जेल में डाल दें। और अगर मैंने अपराध नहीं किया, तो यह आपका अपराध है कि आपने एक लोकतांत्रिक रास्ता, जिसकी जानकारी देकर आया था, आपने उसको रोका। हमने कोई दंगा नहीं की, हमने कोई शोर-शराबा नहीं किया और आपने 5 घंटे तक मुझे अलग-अलग थानों के अंदर और अलग-अलग सड़कों पर घूमाते रहे। मेरे सारे टेलीफोन ले लिए गए और हमारे सहयोगी फरीदाबाद के जिला अध्यक्ष अभी तक बंद हैं। मेरे ऑफिस से अब्दुल रहीम, हिसार के अध्यक्ष संजय भूरा समेत कई लोगों को अभी भी फरीदाबाद पुलिस डिटेन की हुई है। अभी पुलिस उनके खिलाफ कोई केस नहीं बना पाई है और न तो उन पर कोई केस बनता है।

राज्यसभा सदस्य सुशील गुप्ता ने कहा कि दिल्ली पुलिस और फरीदाबाद पुलिस ने मिलकर गैरकानूनी तरीके से मुझे और मेरे साथियों को डिटेन किया। जब मैने जमानत लेने से मना कर दिया, तो 5 घंटे के बाद मुझे छोड़ दिया गया, ताकि हरियाणा के अंदर कोई दिक्कत वाली बात न हो। इस तरह की व्यवस्था हरियाणा के अंदर चल रही है। लगातार एक साल से किसान धरने पर बैठे हैं। हर रोज महिलाओं के साथ रेप के केस अखबारों में सुर्खियों से छपते हैं। हरियाणा सरकार ने करीब 1200 स्कूल बंद करने का फैसला लिया है। हरियाणा सरकार युवाओं को रोजगार देने में असफल है। पिछले 7 साल के अंदर एक नया उद्योग हरियाणा में नहीं आया। वो 600 दिन को सेलिब्रेट कर रहे हैं। इन 600 दिनों में न उन्होंने बिजली दी, न पानी की व्यवस्था ठीक की, न शिक्षा ठीक की और न चिकित्सा ठीक की। एक तरफ खट्टर साहब बोलते हैं कि 50 हजार वैक्सीन दिन के अंदर बहुत है। इस तरह, तीन करोड़ की आबादी को 600 दिन में वैक्सीन लग पाएगी। दूसरी तरफ, एम्स के डायरेक्टर प्रो. गुलेरिया बोलते हैं कि 6 से 8 हफ्ते के अंदर की संभावित तीसरी लहर पहुंचने वाली है। हरियाणा के लोगों की जान बचाने के लिए खट्टर सरकार कुछ भी नहीं कर रही हैं।

Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली विधानसभा ने पास किया मशहूर पर्यावरणविद स्व.श्री बहुगुणा जी को भारत रत्न देने का प्रस्ताव
दिल्ली और गोवा के ऊर्जा मंत्री में बिजली पर बेहतरीन बहस, भाजपा ने स्वीकार किया कि AAP की पॉलिसी सही है
ग्रेड पे की मांग को लेकर प्रदर्शन को AAP ने दिया सपोर्ट, मांग पूरी होने तक साथ देगी आम आदमी पार्टी
AAP ने भाजपा शासित एमसीडी में फैले भ्रष्टाचार और बढ़ती महंगाई को लेकर किया प्रदर्शन
अजमेर में अतिक्रमणकारियों के होंसले बुलंद, निगम कर्मियों के साथ साँठगाँठ कर फ़ाइल ग़ायब करवा देते हैं- कीर्ति पाठक
दिल्ली के तिमारपुर में आईएसओ सर्टिफाइड ‘विधायक कार्यालय’, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने विधायक दिलीप पाण्डेय को दिया सर्टिफिकेट
आनासागर झील के स्वरूप को सीमित करने का षड्यंत्र सुनियोजित व प्रायोजित है - कीर्ति पाठक
‘आप’ ने पर्यावरणविद स्व. सुंदरलाल बहुगुणा पर हुई ओंछी टिप्पणी के विरोध में भाजपा कार्यालय का किया घेराव प्रदर्शन
सत्ताधारी दल कुर्सी बचाने और गिराने में लगे हैं, आम आदमी की इनको कोई सुध नहीं- प्रभारी संजीव झा
गोवा को केजरीवाल की चार गारंटी: AAP की सरकार बनने पर 300 यूनिट फ्री बिजली और 24 घंटे बिजली