Wednesday, December 08, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए इन कदमों का दिखने लगा असरकेजरीवाल सरकार छात्रों में विकसित करेगी उद्यमी बनने के गुण, सरकारी स्कूलों में मंगलवार को लॉन्च किया जाएगा बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्रामडीजेबी अध्यक्ष जैन ने किया संगम पम्पिंग स्टेशन का दौरा, कहा- “दिल्ली सरकार कर रही है स्वदेशी रूप से डिजाइन एक जल निकासी कुएं का निर्माण”दिल्ली और गोवा के ऊर्जा मंत्री में बिजली पर बेहतरीन बहस, भाजपा ने स्वीकार किया कि AAP की पॉलिसी सही है‘आप’ ने पर्यावरणविद स्व. सुंदरलाल बहुगुणा पर हुई ओंछी टिप्पणी के विरोध में भाजपा कार्यालय का किया घेराव प्रदर्शन दिल्ली के सिर पर मंडरा रहे जल संकट के लिए हरियाणा की खट्टर सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार- राघव चड्ढाभाजपा शासित हरियाणा सरकार ने 24 घंटे में यदि दिल्ली के हक का पूरा पानी नहीं दिया तो भाजपा के दिल्ली अध्यक्ष आदेश गुप्ता के पानी कनेक्शन को काट दिया जाएगा- सौरभ भारद्वाज दिल्ली महिला आयोग बेहतरीन काम कर रहा है, वर्तमान आयोग के एक और कार्यकाल को मंजूरी दी गई है- अरविंद केजरीवाल
National

दिल्ली सरकार ने निभाई जिम्मेदार सरकार की भूमिका, संक्रमण कम होने पर ऑक्सीजन आपूर्ति घटाने की मांग

May 13, 2021 03:41 PM

नई दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज गुरुवार को केंद्र सरकार को पत्र लिखकर दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर के कम होने और अस्पतालों में मरीजों की संख्या कम होने पर दिल्ली के ऑक्सीजन कोटे को कम करने की मांग करते हुए एक ज़िम्मेदार सरकार की शानदार भूमिका का उदाहरण दिया।

दिल्ली में संक्रमण की दर घटकर हुई 14%, पिछले 24 घंटो में आए 10400 मामले

सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जानकारी दी कि दिल्ली में अप्रैल के चौथे और मई के पहले सप्ताह में कोरोना संक्रमण की दर तेज़ी से बढ़ी थी। प्रतिदिन 80 हजार से एक लाख तक टेस्ट किए जाते थे, रोज 27-28 हज़ार नए कोरोना मामले सामने आते थे और संक्रमण की दर 32% तक पहुंच गई थी, लेकिन अब दिल्ली में मरीजों की संख्या घट रही है संक्रमण दर अब 14% है और पिछले 24 घंटो में केवल 10400 मामले सामने आए है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जब दिल्ली में कोरोना का संक्रमण बढ़ा तो ऑक्सीजन की मांग भी बढ़ी तब दिल्ली को प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की ज़रूरत थी। लेकिन संक्रमण दर के कम होने और अस्पतालों में मरीजों की संख्या कम होने के बाद दिल्ली में अब ऑक्सीजन की मांग भी घट गई है।

उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने बताया कि तत्काल में केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित प्रति बेड ऑक्सीजन की कुल मांग के अनुसार अब दिल्ली को रोज 582 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है। उपमुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट का धन्यवाद देते हुए कहा कि मुश्किल के समय में सुप्रीम कोर्ट के सहयोग से केंद्र सरकार द्वारा मांग के अनुसार 700 टन नहीं लेकिन पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई जिससे हज़ारों लोगों की जान बची।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ये जानकारी भी दी का अब अस्पतालों से आपात स्थिति में SOS कॉल आना भी बंद हो चुकी है। अब 24 घंटों में बमुश्किल 1-2 कॉल आती है, जहां तुरंत ऑक्सीजन पहुंचा दी जाती है। इसलिए दिल्ली सरकार ने एक जिम्मेदार सरकार का कर्तव्य निभाते हुए केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर दिल्ली का ऑक्सीजन आपूर्ति का कोटा घटाकर प्रतिदिन केवल 582 मीट्रिक टन ऑक्सीजन देने की मांग की है ताकि शेष ऑक्सीजन को बाकी ज़रूरतमंद राज्यों को दिया जा सके।

Have something to say? Post your comment
More National News
प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए इन कदमों का दिखने लगा असर
CM केजरीवाल ने किया दिवाली पूजन
नवरात्र में छोटे व्यापारियों को रात्रि आठ बजे बाद भी कारोबार करने दिया जाए – जागीरदार
निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने खोला मोर्चा', हरकत में आया शिक्षा महकमा
केजरीवाल सरकार छात्रों में विकसित करेगी उद्यमी बनने के गुण, सरकारी स्कूलों में मंगलवार को लॉन्च किया जाएगा बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम
केजरीवाल सरकार सोनिया विहार में बना रही आधुनिक कुआं, रोजाना कुएं से निकाला जा सकेगा 90 लाख लीटर पानी
AAP की ‘किसान न्याय सभा’ 26 को श्रीगंगानगर में, सांसद संजय सिंह करेंगे संबोधित
15 Aug, CM Kejriwal Mc Mcd