Monday, May 10, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
दिल्ली में कांग्रेस की पूर्व विधायक अंजली राय और वरिष्ठ नेता रविंद्र सिंह ने थामा AAP का दामनAAP के जगदीप काका ने ‘बिजली बिल जलाओ’ अभियान के तहत गांवों में नुक्कड़ बैठकें कीखाद्य मंत्री इमरान हुसैन ने भू-माफियाओं के कब्जे से गवर्नमेंट गर्ल्स स्कूल की जमीन कराई मुक्तवर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम पर दिल्ली और भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे सीएम अरविंद केजरीवालस्विट्जरलैंड के राजदूत ने कोरोनावायरस से निपटने के केजरीवाल सरकार के प्रयासों को सराहा‘दिल्ली हिंसा’ में जान गंवाने वाले आईबी ऑफिसर अंकित शर्मा के भाई को नौकरी देगी केजरीवाल सरकारउपनलकर्मियों के मुख्यमंत्री आवास कूच को ‘आप’ का समर्थन, धरनास्थल पहुंचे कार्यकर्ताओं ने दिया समर्थन‘आप’ की सरकार बनने पर दिल्ली की तरह पंजाब में भी 24घंटे मुफ्त बिजली देंगे: अरविंद केजरीवाल
National

दिल्ली में अगले दो से चार दिनों के अंदर करीब 6 हजार बेड और बढ़ा दिए जाएंगे- अरविंद केजरीवाल

April 17, 2021 10:44 PM

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना केस को लेकर गंभीर चिंता जताते हुए कहा कि हम दिन-रात मेहनत कर ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य सुविधाओं का इंतजाम कर रहे हैं, ताकि कोरोना से एक कदम आगे रहें। दिल्ली में अगले दो से चार दिनों के अंदर करीब 6 हजार बेड और बढ़ा दिए जाएंगे। सीएम ने कहा कि कोरोना के केस तेजी से बढ़ने की वजह से दिल्ली में ऑक्सीजन, रेमडिसविर और पाॅसिलिजमाॅब की कमी होती जा रही है। अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि रेमडिसविर और पाॅसिलिजमाॅब की जमाखोरी और ब्लैक मार्केटिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। क्षमता से अधिक सैंपल उठाने और 24 घंटे में रिपोर्ट नहीं देने वाले लैब्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही, कोरोना एप पर गलत जानकारी देने और उपलब्ध होने के बावजूद बेड नहीं देने वाले अस्पतालों के खिलाफ भी अब कड़ी कार्रवाई होगी। सीएम ने कहा कि अगर कोरोना की स्थिति और गंभीर होती है, तो दिल्ली वालों की सुरक्षा और जिंदगी बचाने के लिए हम और भी कड़े कदम उठाएंगे।

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 24 हजार नए केस आए और सकारात्मकता दर 24 फीसद से अधिक है- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम और कोराना मरीजों बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया के लिए अधिक से अधिक बेड बढ़ाने को लेकर आज कई दौर की बैठकें कीं। मुख्यमंत्री ने दोपहर में सचिवालय में कोरोना की समीक्षा बैठक की और अधिकारियों से मौजूदा हालत की जानकारी ली। इसके उपरांत मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों से बात की और जरूरी दिशा-निर्देश दिए। सीएम अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस इसकी जानकारी देते हुए कहा कि देश के बाकी हिस्सों की तरह ही दिल्ली में भी कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में लगभग 24 हजार नए केस आएं हैं। उसके पिछले 24 घंटे में करीब 19,500 केस आए थे। एक ही दिन के अंतर में कोरोना के केस 19,500 से बढ़कर के 24 हजार हो गए हैं। दिल्ली में सकारात्मकता दर 24 फीसद से ज्यादा हो गई है। इस समय स्थिति काफी गंभीर और चिंताजनक है। अब दिल्ली के अंदर ऑक्सीजन और रेमडिसविर की कमी होने लगी है। आज मैंने सभी अधिकारियों के साथ कोरोना को लेकर काफी लंबी बैठक की। चूंकि केस बहुत ज्यादा तेजी से बढ़ रहे हैं। इस वजह से इन सारी चीजों की कमी हो रही हैं। कुछ दिन पहले हमारा आंकलन था और हमें लगता था कि यह सारी चीजें उचित मात्रा में मौजूद हैं, लेकिन आज ऑक्सीजन, रेमडिसविर और पाॅसिलिजमाॅब, इन तीनों की कमी नजर आई। किसी भी हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर की एक सीमाएं हैं। दिल्ली के अंदर भी एक सीमित बेड और सीमित आईसीयू के बेड हैं। जिस तेजी के साथ कोरोना बढ़ रहा है, तो आॅक्सीजन और आईसीयू के बेड बहुत तेजी के साथ भरते जा रहे हैं, लेकिन ‘आप’की सरकार पूरी कोशिश कर रही है कि बेड को और ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए।

हम अधिक से अधिक ऑक्सीजन बेड बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि गंभीर मरीजों को दिक्कत न हो- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में हमने कई कदम उठाए, जिसकी वजह से बेड को काफी ज्यादा बढ़ाया गया और अभी तक दिल्ली में बेड की कमी नहीं होने दी गई। अभी भी आने वाले कुछ दिनों के अंदर हमने बेड को बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहे हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि अगले दो-चार दिनों के अंदर ही हम बड़े स्तर पर बेड बढ़ा पाएंगे। हम कोशिश कर रहे हैं कि अगर किसी मरीज को बेड चाहिए या किसी गंभीर मरीजों को ऑक्सीजन चाहिए, तो उसे ऑक्सीजन की दिक्कत नहीं होनी चाहिए। इसमें सबसे ज्यादा जरूरी हो जाता है कि मरीज को ऑक्सीजन की जरूरत होती है। हम जितने ज्यादा से ज्यादा बेड बना रहे हैं, हम कोशिश कर रहे हैं कि उनको ऑक्सीजन बेड बनाया जाए, ताकि एक स्तर के गंभीर मरीजों का उस पर इलाज किया जा सके।

यमुना स्पोर्ट्स कांप्लेक्स और कॉमनवेल्थ गेम में लगभग 1300 ऑक्सीजन बेड और राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 2500 बेड बढ़ा रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि यमुना स्पोर्ट्स कांप्लेक्स और कॉमनवेल्थ गेम में लगभग 1300 ऑक्सीजन बेड का इंतजाम किया जा रहा है। राधा स्वामी सत्संग ब्यास में शुरू में अभी हम 2500 बेड का इंतजाम कर रहे हैं और इसके तुरंत बाद 2500 और बेड का इंतजाम करेंगे। अभी कुछ दिन पहले मैंने बताया था कि किस तरह से होटल और बैंक्विट हॉल को हॉस्पिटल के साथ अटैच किया जा रहा है। होटल और बैंक्विट हॉल को हॉस्पिटल के साथ अटैच करके हम 2100 ऑक्सीजन बेड बनाने में सफल हुए हैं, जो अगले एक-दो दिन में दिल्ली कोरोना एप पर भी आ जाएगा। यह सभी बैंक्विट हाॅल और होटल में बढ़ाए गए बेड अस्पताल की निगरानी में होंगे। एक तरफ से यह सभी अस्पताल का हिस्सा होंगे। इस तरह से मैं उम्मीद करता हूं कि अगले दो से चार दिनों के अंदर इस पूरे सिस्टम के अंदर 6 हजार बेड और जोड़ पाने में सक्षम हो पाएंगे।

हम दिन-रात मेहनत कर ज्यादा से ज्यादा इंतजाम कर रहे, ताकि कोरोना से एक कदम आगे रहें- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिस तेजी के साथ कोरोना बढ़ रहा है, अभी किसी को भी नहीं पता है कि इसकी पिक कहां तक जाएगी। जैसा कि परसों 19,500 केस थे, लेकिन पिछले 24 घंटे में 24 हजार केस आए हैं। अगले दो-तीनों में और इसके बाद कितने केस होंगे, इस बारे में कुछ भी नहीं कह सकते हैं। इसीलिए हमें अपनी तैयारियां और बढ़-चढ़कर के करनी पड़ेगी। हम इस वक्त जरा सा भी आलस नहीं कर सकते, जरा सा भी सांस नहीं ले सकते। इस वक्त हमें 24 घंटे मेहनत करके ज्यादा से ज्यादा इंतजाम करने पड़ेंगे, ताकि अगर कोरोना इतना ज्यादा हो जाता है, तो हमें कोरोना से एक कदम आगे होना चाहिए।

रेमडिसविर और पाॅसिलिजमाॅब की जमाखोरी और ब्लैक मार्केटिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ऐसी खबरें आई हैं कि जिन दवाइयों की कमी हो रही है, इनकी कहीं ब्लैक मार्केटिंग और जमाखोरी तो न हो रही है? आज अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान मैंने सख्त निर्देश दिए हैं कि अगर कोई भी इन दवाइयों की जमाखोरी या ब्लैक मार्केटिंग करते हुए पाया जाता है, तो उन पर छापेमारी कर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। सीएम ने कहा कि दिल्ली देश का अकेला राज्य है, जहां पर 24 घंटे में कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट आया करती थी, लेकिन यह शिकायत आ रही है और सही भी है कि पिछले कुछ दिनों से टेस्ट रिपोर्ट आने में तीन से चार दिन लग रहे हैं। इसकी काफी शिकायतें आ रही हैं। इसका कारण यह है कि कुछ लैब्स ने अपनी क्षमता से ज्यादा सैंपल उठाने शुरू कर दिए हैं। मसलन उनकी क्षमता एक दिन की 5000 की है, तो वे 10 हजार या 15 हजार सैंपल ले रहे हैं और इसलिए उनको सैंपल का रिजल्ट देने में 3 से 4 दिन लग जा रहे हैं। इसका गंभीर मरीजों को नुकसान उठाना पड़ सकता है। जैसे कि एक गंभीर मरीज ने आज सैंपल दिया और उसकी जांच की रिपोर्ट 3 दिन बाद आएगी तो उस व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। ये लैब्स गंभीर मरीजों की जिंदगी के साथ खेल रहे हैं। जो लैब्स अपनी क्षमता से ज्यादा सैंपल उठाते हैं और 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट नहीं दे रहे हैं, ऐसी लैब्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सभी जिलाधिकारियों को भी निर्देश दिए गए हैं कि किसी भी लैब को सैंपल देने से पहले देखें कि उनके पास कुछ लंबित सैंपल तो नहीं पड़े हैं। निर्देश दिए गए हैं उन लैब्स को बिल्कुल सैंपल न दिए जाएं, जो 24 घंटे के अंदर अपनी रिपोर्ट नहीं दे पा रहे हैं।

कोरोना एप पर गलत जानकारी भरने और उपलब्ध होने के बावजूद बेड नहीं देने वाले अस्पतालों के खिलाफ अब सख्त कार्रवाई होगी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार का दिल्ली कोरोना ऐप है। इस ऐप में आपको वास्तविक समय के आधार पता चलता है कि किस अस्पताल में कितने बेड भरे हुए हैं और कितने बेड कोरोना के खाली हैं। अस्पताल में कितने आईसीयू बेड हैं। उसमें कितने खाली हैं और कितने भरे हैं। यह एप हम नहीं चलाते हैं। इस एप का पासवर्ड सभी अस्पतालों को दिया हुआ है। अस्पताल वाले खुद उसमें डाटा भरते हैं। जिस अस्पताल ने हमारे दिल्ली सरकार के एप में भरा हुआ कि अभी हमारे पास 40 बेड खाली हैं और कोई वहां जाता है और बेड मांगता है, लेकिन अस्पताल उसे बेड देने से मना कर देता है, तो ऐसे अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस तरह की शिकायतें आ रही है कि एप में दिखा रहे हैं कि बेड है, लेकिन अस्पताल बेड नहीं दे रहे हैं। जब वहां जाते हैं, तो अस्पताल कहते हैं कि बेड खाली नहीं है। ऐसे अस्पतालों के खिलाफ जो गलत जानकारी भर रहे हैं, जो फोन पर ठीक जानकारी नहीं दे रहे हैं और एप में बेड उपलब्ध होते हुए भी, अगर वे मरीज को बेड नहीं दे रहे हैं, तो ऐसे अस्पतालों खिलाफ अब सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अगर कोरोना की स्थिति और गंभीर होती है, तो दिल्ली वालों की सुरक्षा और जिंदगी बचाने के लिए हम और भी कड़े कदम उठाएंगे- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए हमें मजबूरी में यह वीकेंड कर्फ्यू लगाना पड़ा है। चारों तरफ से खबर आ रही है कि लोग इसका अच्छे से पालन कर रहे हैं। अगले कुछ दिनों तक हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। अगर स्थिति और गंभीर होती है, इसको नियंत्रित करने, आपकी जिंदगी बचाने, आपकी सुरक्षा और आपके स्वास्थ्य के लिए, जो भी कदम उठाने पड़ेंगे, हम कदम उठाएंगे। मैं उम्मीद करता हूं कि आज तक जैसे आपने हर कदम पर हमारा साथ दिया है, हमने जो भी कदम उठाया, आपने साथ दिया है, इसी तरह से आप आगे भी हमारा साथ देते रहेंगे।

Have something to say? Post your comment
More National News