Friday, January 22, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
मोहल्ला सभाओं में आकर जनता खुद कर रही BJP के भ्रष्टाचार का खुलासा, जनता में भाजपा के प्रति जबरदस्त गुस्सा‘आप’ ने स्थानीय चुनाव में कांग्रेस द्वारा सरकारी तंत्र के दुरुपयोग की आशंका जताईबिहार में हजारों स्टूडेंट्स का भविष्य खतरे में, ‘आप’ सांसद संजय सिंह ने सीएम नीतीश को लिखा पत्रविधायक चड्ढा ने मिड-डे मील के 3200 राशन किट का वितरण किया, किट में चावल, दाल और रिफाइंड तेल मौजूदमोहल्ला सभाओं में जनता ने कहा- “भाजपा ने एमसीडी को भ्रष्टाचार का कारखाना बना दिया है…”जीएनएम छात्राओं ने ‘आप’ सांसद संजय सिंह से लगाई गुहार, प्रवक्ता बबलू प्रकाश को सौंपा ज्ञापनदिल्ली की साफ-सफाई और भ्रष्टाचार की समस्या के समाधान के लिए MCD में AAP की सरकार बनाना बेहद जरूरी- आतिशीहरियाणा सरकार किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को असफल करने का षडयंत्र रच रही है: डॉ सुशील गुप्ता
National

दिल्ली की केजरीवाल सरकार बिजनेस करने के इच्छुक युवाओं की मदद के लिए स्टार्टअप पॉलिसी लाएगी

December 24, 2020 09:41 PM

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज अम्बेडकर विश्वविद्यालय में आयोजित वार्षिक दीक्षांत समारोह को मुख्य अतिथि के तौर पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने डिग्री पाने वाले छात्रों को सुनहरे भविष्य की दी शुभकामनाएं। सीएम अरविंद केजरीवाल ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आप नौकरी करने के साथ नौकरी देने वाले भी बनें। दिल्ली सरकार बिजनेस करने के इच्छुक युवाओं की मदद के लिए स्टार्टअप पालिसी लाने जा रही है। कई युवाओं के पास अच्छे बिजनेस आइडियाज होते हैं, लेकिन उन्हें पता नहीं होता कि वे शुरुआत कैसे करें, सलाह किससे लें, लोन कहाँ से लें? स्टार्टअप पालिसी के तहत युवाओं को सभी तरह के लीगल और टेक्निकल सलाह देने के साथ कुछ प्रोत्साहन भी दिया जाएगा। सीएम ने युवाओं को राजनीति में सक्रिय भूमिका निभाने का आह्वान करते हुए कहा कि आप सीधे तौर पर राजनीति में आएं या न आएं, लेकिन एक नागरिक होने के नाते देश की राजनीति में सक्रिय हिस्सेदारी जरूर करें। जिस देश के लोग अपने देश की राजनीति में हिस्सा लेना बंद कर देते हैं, उस देश में नेता गड़बड़ी करके पैसा कमाते हैं और गुंडागर्दी करते हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डॉ. भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय में आयोजित 9वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं खुद चाहता था कि आपकी यूनिवर्सिटी में आऊं और निजी तौर पर सभी से मिलूं। हमेशा मेरे लिए किसी भी कॉलेज में किसी भी कारण से जाना और युवाओं, अध्यापकों से मिलना सुखद अनुभव होता है। लेकिन कोविड-19 की वजह से मैं यहां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आप लोगों से बातचीत कर रहा हूं। सबसे पहले जिन-जिन छात्रों को आज डिग्री और सम्मान मिले हैं, उन सबको तहे दिल से बहुत-बहुत बधाई। मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि आप सब लोगों के सपने पूरे हों। आपने जो-जो जिंदगी में सोचा है आपको वह मिले। जैसा कि उप मुख्यमंत्री मनीष जी ने कहा कि यह बड़ा मुश्किल दौर है, जिससे पूरी इंसानियत और पूरी पृथ्वी गुजर रही है। बताते हैं कि आज से 100 साल पहले 1918 में ऐसा मौका आया था, जब स्पेनिश फ्लू हुआ था। आज 100 साल के बाद ऐसा मौका आया है, जब देश-दुनिया में कोविड की महामारी फैली हुई है। लोगों की पूरी जिंदगी अस्त व्यस्त हो गई है और सब लोग बहुत कठिन दौर से गुजर रहे हैं, लेकिन इतने कठिन दौर में भी अंबेडकर यूनिवर्सिटी के अध्यापकों, छात्रों और स्टाफ ने मिलकर पढ़ाई को रुकने नहीं दिया। आज दीक्षांत समारोह हो रहा है, सबको डिग्री मिल रही है। इसके लिए मैं आप सब लोगों के साहस, गंभीरता, मेहनत को सलाम करता हूं। इसके लिए आप सब लोगों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। यह बहुत ही कठिन समय है लेकिन आप लोगों ने कठिन हालात में भी सही तरीके से प्रबंधन किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि डिग्री मिलने वाला जो मौका जो होता है, वह किसी भी इंसान की जिंदगी में बहुत अहम मौका होता है, जब आदमी अपनी जिंदगी में एक चरण से दूसरे चरण में जाता है। जब आदमी छात्र के जीवन से पारिवारिक जीवन में जाता है। सभी छात्र नौकरी करेंगे, परिवार होगा। किसी भी इंसान की जिंदगी के अंदर एक बहुत महत्वपूर्ण बदलाव आता है। आप सब लोग जो पास हो रहे हैं, उनको आने वाले समय में अलग-अलग क्षेत्रों में इस देश की जिम्मेदारी संभालनी हैं। मैं समझता हूं कि आपमें से जो बच्चे पास हुए हैं, उनमें से कुछ बच्चे उच्च शिक्षा के लिए जाएंगे। मैं एक जानकारी दे दूं कि अगर आप में से किसी भी बच्चे को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में आर्थिक दिक्कत हो, तो दिल्ली सरकार ने आपकी सुविधा के लिए एक योजना निकाली है। जिसमें हम 10 लाख रुपए तक का लोन देते हैं। आप कहीं भी जाकर उच्च शिक्षा प्राप्त कीजिए। सरकार बिना किसी गारंटी और बिना कुछ भी गिरवी रखे, आपको 10 लाख रुपए तक का लोन देती है। हम चाहते हैं कि आप उच्च शिक्षा प्राप्त करें। आप में से कुछ लोग शोध भी करेंगे। दुनिया भर के अंदर इतनी शोध होती है। हमारे भारत के लोग ही दुनिया भर में जाकर शोध करते हैं, लेकिन अपने देश में थोड़ी शोध कम होती है। मेरा हमेशा सपना है कि जो बच्चे पास हो रहे हैं, वो शोध सुविधाओं को आगे जाकर बदलें और शोध के क्षेत्र में दुनिया भर में देश का नाम आगे बढ़ाएं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कई सारे छात्रों को अच्छी-अच्छी नौकरियां मिली हैं। जिनको नौकरियां मिली हैं, उन सबको मैं बधाई देता हूं। आप में से कुछ ऐसे भी होंगे, जिनको एक-एक नहीं दो-दो, तीन-तीन नौकरियां भी मिली होंगी। मेरी उन सब से दो विनती हैं, पहली तो यह कि जहां भी जाएं वहां पर अच्छे से नौकरी करें और देश को आगे बढ़ाएं। दूसरी यह है कि नौकरी करते-करते यह जरूर सोचें कि मुझे नौकरी छोड़कर अपना व्यापार कब करना है। सबको अपना लक्ष्य रखना चाहिए कि मुझे आगे जाकर नौकरी प्रदान करने वाला बनना है। अनुभव लेने के लिए शुरुआत में एक-दो साल नौकरी करना भी जरूरी होता है। कहीं ना कहीं नौकरी जरूर कीजिए, लेकिन कुछ साल बाद नौकरी छोड़कर आपको इस देश के युवाओं, दूसरे लोगों के लिए नौकरियां तैयार करनी है। इसके लिए विश्वविद्यालय, अध्यापकों और पास हो रहे छात्रों को नेतृत्व करना है। यहां से पास होने के पास बाद जो लोग व्यापार करेंगे, उनके लिए मैं बताना चाहता हूं कि आप लोगों की मदद करने के लिए हम लोग कुछ दिनों के बाद स्टार्टअप पॉलिसी लेकर आ रहे हैं। मैं ऐसे कई सारे बच्चों को जानता हूं जो कि व्यापार करना चाहते हैं। उनके पास बेहतर व्यापार के विचार होते है, लेकिन उन्हें समझ नहीं आता कि पहला कदम कैसे उठाएं और किसके पास सलाह लेने जाएं। छात्रों को वित्त की समझ कम होती है, उनको लोन कहां से मिलेगा, यह समझ नहीं आता है। इसके अलावा कई तरह की समस्याएं आती हैं। उसके लिए हम पूरी एक बहुत ही विस्तृत स्टार्टअप नीति लेकर आ रहे हैं। उसमें आपको पूरी कानूनी-तकनीकि सलाह मिलेगी और आपको लोन दिलवाने में मदद करेंगे। आपको कुछ सब्सिडी देंगे और आपकी बहुत तरह से मदद करेंगे, ताकि आपके पास अच्छा व्यापार का विचार है, तो उसे लागू कर सकें।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं इसे जरूरी समझता हूं कि आप में से कुछ लोग आगे जाकर नेता बनें और बनना भी चाहिए। आपमें से जो छात्र नेता बनना चाहते हैं। आप जिस भी पार्टी में आप शामिल हों ल, वहां ईमानदारी के साथ राजनीति करें। एक बात यह कि आप में से कुछ लोग पार्टी में शामिल होने के बाद राजनीति करेंगे, लेकिन आप सब लोगों को देश की राजनीति में हिस्सा जरूर लेना पड़ेगा। जिस देश के लोग अपने देश की राजनीति में हिस्सेदारी करना बंद कर देते हैं और राजनीति को नेताओं का क्षेत्र मानते हैं, तो वहीं नेता गड़बड़ी करते हैं। नेता पैसा कमाते हैं, चोरी-गुंडागर्दी करते हैं। लोकतंत्र लोगों के द्वारा लोगों के लिए है। अगर लोग शांत रहते हैं, सक्रिय नहीं रहते और लोकतंत्र में हिस्सा लेना बंद कर देते हैं, तो वो जनतंत्र जिंदा नहीं रहेगा। आप सीधे तौर पर राजनीति में आए या ना आएं, लेकिन एक नागरिक होने के नाते राजनीति में हिस्सा जरूर लें।। जहां भी रहें और जो भी करें, लेकिन लोकतंत्र का हिस्सा होने के नाते देश को हमेशा सामने रखिएगा। इस देश ने आपको बहुत कुछ दिया है। मैं हमेशा बार-बार बार-बार कहता हूं कि दुनिया का सबसे खूबसूरत और सबसे बेहतरीन देश भारत है। भारत के लोग भी बहुत अच्छे हैं। हमारे सिस्टम थोड़े खराब हैं और इन सारे सिस्टम को हम सब मिलकर ठीक करेंगे। मैं फिर भगवान से प्रार्थना करता हूं कि आप सब लोगों को खूब खुशियां दे। आप लोगों के सपने पूरे हों और आगे चलकर बहुत अच्छे से इस देश की बागडोर संभाले।

Have something to say? Post your comment
More National News
विधायक राघव चड्ढा ने सर गंगाराम अस्पताल का दौरा किया, कोविड-19 टीकाकरण अभियान की जानकारी ली
झुग्गीवासियों के पूर्ववास के लिए 9315 फ्लैट्स बनकर तैयार, सीएम केजरीवाल ने आवंटन दिए निर्देश
चुनाव से पहले एमसीडी को पूरी तरह से लूटने के इरादे से भाजपा शासित दक्षिणी नगर निगम ने पार्षद निधि 50 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए करने की घोषणा की है- सौरभ भारद्वाज
देवभूमि उत्तराखंड की पीड़ा को उजागर करता है यह कवि सम्मेलन : उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया
दिल्ली और पंजाब के बाहर महाराष्ट्र में ‘आप’ ने 96 सीटें जीती, सोशल मीडिया पर विजेताओं को दी बधाईयां
मोहल्ला सभाओं में आकर जनता खुद कर रही BJP के भ्रष्टाचार का खुलासा, जनता में भाजपा के प्रति जबरदस्त गुस्सा आम आदमी पार्टी ने अपने हक की लड़ाई लड़ रहे बेरोजगार शिक्षकों का किया समर्थन ‘आप’ ने स्थानीय चुनाव में कांग्रेस द्वारा सरकारी तंत्र के दुरुपयोग की आशंका जताई
बिहार में हजारों स्टूडेंट्स का भविष्य खतरे में, ‘आप’ सांसद संजय सिंह ने सीएम नीतीश को लिखा पत्र
जनता ने एमसीडी में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाकर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को विश्व स्तरीय बनाने का मन बना लिया है- दुर्गेश पाठक