Tuesday, June 15, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
शिक्षा को जन आंदोलन बनाना मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का है सपना - मनीष सिसोदियादिल्ली सरकार की अनूठी पहल, विदेश यात्राओं पर जाने वाले नागरिकों के लिए शुरू किया स्पेशल वैक्सीनेशन सेंटरवैक्सीनेशन केंद्रों का निरीक्षण किया जा रहा है, सभी जगहों से सकारात्मक रूझान मिल रहे है- गोपाल रायसंयोजक केजरीवाल ने अहमदाबाद में किया प्रदेश स्तरीय कार्यालय का उद्घाटन, वरिष्ठ पत्रकार इसूदान AAP में शामिलकोविड काल का बिजली बिल माफ़ और दिल्ली की तर्ज पर 200 यूनिट तक फ़्री बिजली की मांग को लेकर सड़कों पर AAPदिल्ली पर्यावरण मंत्री ने पौधों के निशुल्क वितरण का लिया जायजा सैनिटाइजर, ऑक्सीजन सिलिंडर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वैक्सीन, थर्मामीटर, ऑक्सीमीटर पर खत्म हो जीएसटी - सिसोदिया दिल्ली सरकार युवाओं के भविष्य को लेकर हैं गंभीर - महिला एवं बाल विकास मंत्री
National

कोविड वैक्सीन देने के लिए दिल्ली की तैयारी पूरी, पहले चरण में 51 लाख लोगों को दी जाएगी वैक्सीन

December 24, 2020 09:29 PM

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोविड वैक्सीन देने के लिए दिल्ली सरकार पूरी तरह से तैयार है। दिल्ली सरकार पहले चरण में वरियता सूची में शामिल 51 लाख लोगों को वैक्सीन देगी। इसमें 3 लाख हेल्थ वर्कर, 6 लाख फ्रंट लाइन वर्कर और करीब 42 लाख लोग 50 वर्ष से अधिक उम्र के व गंभीर रोग से ग्रसित लोग शामिल हैं। इन्हें वैक्सीन की दो-दो डोज दी जाएगी और इसके लिए एक करोड़ 2 लाख डोज की जरूरत पड़ेगी। दिल्ली सरकार के पास अभी 74 लाख डोज स्टोर करने की क्षमता है, लेकिन एक सप्ताह के अंदर यह क्षमता बढ़ा कर एक करोड़ 15 लाख तक कर दी जाएगी। सीएम ने कहा कि लोगों को वैक्सीन लेने के लिए पंजीकरण कराना होगा और उन्हें एसएमएस सहित अन्य माध्यमों से वैक्सीन लगवाने का स्थान और दिन बताया जाएगा। वैक्सीन लगाने वाली एक टीम में पांच लोग शामिल होंगे। इसके लिए सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को चिंहित करके इन्हें प्रशिक्षण दे दिया गया है। साथ ही, वैक्सीन का दुष्प्रभाव पड़ने पर उस व्यक्ति को तत्काल इलाज देने के लिए विशेषज्ञ डाॅक्टरों की व्यवस्था भी पूरी कर ली गई।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कोरोना वैक्सीन को लेकर सरकार की अग्रिम तैयारियों के संबंध में डिजीटल प्रेस वार्ता को संबोधित किया। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में कोरोना की स्थिति में काफी सुधार हुआ है। कोरोना की संक्रमण दर एक प्रतिशत से भी कम हो गई है। कोरोना से रोजाना जो मौतें होती थीं, उसमें काफी कमी आई है। हमें इन मौतों को और भी कम करना है। रिकवरी रेट में भी काफी सुधार हुआ है और रिकवरी रेट काफी ज्यादा बढ़ गया है। कोरोना के बीमार लोग अब ठीक होकर घर जा रहे हैं। अब सब लोगों की नजर वैक्सीन की तरफ है कि कब वैक्सीन आएगी और कब लोगों को कोरोना से मुक्ति मिलेगी।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार ने दिल्ली के लोगों को वैक्सीन देने के लिए पूरा इंतजाम कर लिया है। केंद्र सरकार से वैक्सीन प्राप्त करने, स्टोर करने और लोगों को लगाने के लिए दिल्ली सरकार पूरी तरह से तैयार है। केंद्र सरकार ने 3 किस्म के लोगों की वरीयता सूची बनाई है, जिन्हें सबसे पहले वैक्सीन दी जाएगी। वैक्सीन का एकदम से उत्पादन इतना ज्यादा नहीं हो सकता है कि सारे देश को एक साथ दी जा सके। ऐसे में, जिन्हें पहले वैक्सीन दी जाएगी, उसके लिए तीन तरह के लोगों की वरीयता सूची बनाई गई है। सबसे पहले हमारे डॉक्टर, नर्स, पैरा मेडिकल कर्मचारी समेत जितने भी हेल्थ केयर वर्कर हैं, उन लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। दिल्ली में अनुमान है कि लगभग 3 लाख के करीब हेल्थ केयर वर्कर हैं। दूसरा फ्रंटलाइन वर्कर, जैसे पुलिस, सिविल डिफेंस वालंटियर, नगर निगम कर्मचारी आदि को वैक्सीन दी जाएगी। दिल्ली में ऐसे लोगों की संख्या लगभग 6 लाख है। तीसरी श्रेणी में वह लोग शामिल हैं, जिनकी उम्र 50 साल से ज्यादा है या जिनको किसी प्रकार की गंभीर बीमारी है। किसी 50 साल से कम उम्र के व्यक्ति को डायबिटीज, दिल की बीमारी है या कोई ऐसी बीमारी है, जिसमें कोरोना जानलेवा हो सकता है, तो उन्हें वैक्सीन दी जाएगी। दिल्ली में ऐसे लोगों की संख्या लगभग 42 लाख है। ऐसे में केंद्र सरकार ने जो वरीयता सूची परिभाषित की है, उसके मुताबिक दिल्ली के 51 लाख लोग इस श्रेणी में आते हैं। इन सब लोगों को चिन्हित कर लिया गया है। मुझे उम्मीद है कि थोड़ा बहुत जो काम बचा है, वो अगले 1 हफ्ते के अंदर पूरा हो जाएगा।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक आदमी को वैक्सीन के दो डोज लगेंगे। ऐसे में पहले चरण में वरीयता सूची वाले 51 लाख लोगों को वैक्सीन देने के लिए 1.02 करोड़ डोज की जरूरत पड़ेगी। हमारे कोल्ड स्टोर की अभी 74 लाख डोज भंड़ारण करने की क्षमता है। सारा काम बड़ी तेजी से चल रहा है और अगले 5 से 7 दिन के अंदर क्षमता को बढा दिया जाएगा। अगले 7 दिन के अंदर हमारी क्षमता बढ़कर 1.15 करोड़ डोज स्टोर करने की हो जाएगी। दिल्ली में एक तरह से वरीयता सूची वाले लोगों को वैक्सीन देने के लिए 1.02 करोड़ डोज की जरूरत है और हमारे पास अगले एक सप्ताह में 1.15 करोड़ वैक्सीन स्टोर करने की क्षमता होगी।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वरीयता सूची के दायरे में आने वाले सब लोगों का पंजीकरण किया जा रहा है। जब वैक्सीन आएगी, तो वरीयता सूची के मुताबिक जिन लोगों का पंजीकरण है, सबसे पहले उन्हीं को वैक्सीन मिलेगी। जिन-जिन लोगों का पंजीकरण है, उन्हें एसएमएस के जरिए या अन्य माध्यमों से बता दिया जाएगा कि उन्हें किस दिन वैक्सीन लगवाने के लिए आना है। इसके लिए किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है, सरकार सबको इसके बारे में खुद जानकारी देगी।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अंदर वैक्सीन देने के लिए जितने भी स्थानों की जरूरत पड़ेगी, उसको लेकर सारी तैयारी की जा रही है। वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त स्थान हैं, उसकी चिंता करने की जरूरत नहीं है। जितने भी कर्मचारी की जरूरत पड़ेगी, उन्हें चिन्हित कर लिया गया है। एक वैक्सीनेशन स्थल पर 5 लोगों की टीम बनेगी। जितनी भी टीम की जरूरत होगी, उन सभी टीमों को चिन्हित कर लिया गया है। सारे अधिकारियों, कर्मचारियों को चिन्हित कर लिया गया है और उन सबका प्रशिक्षण करवाया जा चुका है। एक तरह से सारी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं।

उन्होंने कहा कि भगवान न करें, लेकिन अगर वैक्सीन देने के बाद किसी को कोई साइड इफेक्ट (दुष्प्रभाव) हो जाता है, तो उसके तुरंत इलाज की भी सारी व्यवस्था कर ली गई है। इलाज करने के लिए विशेषज्ञों, चिकित्सकों की सभी व्यवस्थाएं कर ली गई है। अब हम सब लोग बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं कि हमारे देश में भी जल्द वैक्सीन को मंजूरी मिलेगी। जैसे ही दिल्ली को वैक्सीन मिलेगी तुरंत वैक्सीनेशन का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। हम वरीयता सूची वाले समूहों को वैक्सीन देने के लिए पूरी तरीके से तैयार हैं।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री और विभागीय अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

इससे पहले, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज सुबह अपने आवास पर स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना के वैक्सीन को लगाने के लिए की गई तैयारियों की समीक्षा की। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने प्रजेंटेशन के माध्यम से अब तक की तैयारियों की जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार पहले हेल्थ वर्कर, फ्रंट लाइन वर्कर और 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों व किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों को वैक्सीन दी जानी है। स्वास्थ्य विभाग ने सीएम को बताया कि वैक्सीन लगाने वाली टीम में शामिल कर्मचारियों और अधिकारियों को चिंहित करके उन्हें प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

Have something to say? Post your comment
More National News
शिक्षा को जन आंदोलन बनाना मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का है सपना - मनीष सिसोदिया
दिल्ली सरकार की अनूठी पहल, विदेश यात्राओं पर जाने वाले नागरिकों के लिए शुरू किया स्पेशल वैक्सीनेशन सेंटर
वैक्सीनेशन केंद्रों का निरीक्षण किया जा रहा है, सभी जगहों से सकारात्मक रूझान मिल रहे है- गोपाल राय
संयोजक केजरीवाल ने अहमदाबाद में किया प्रदेश स्तरीय कार्यालय का उद्घाटन, वरिष्ठ पत्रकार इसूदान AAP में शामिल
कोविड काल का बिजली बिल माफ़ और दिल्ली की तर्ज पर 200 यूनिट तक फ़्री बिजली की मांग को लेकर सड़कों पर AAP
दिल्ली पर्यावरण मंत्री ने पौधों के निशुल्क वितरण का लिया जायजा
सैनिटाइजर, ऑक्सीजन सिलिंडर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वैक्सीन, थर्मामीटर, ऑक्सीमीटर पर खत्म हो जीएसटी - सिसोदिया
दिल्ली सरकार युवाओं के भविष्य को लेकर हैं गंभीर - महिला एवं बाल विकास मंत्री
कक्षा 6 से 9 की एडमिशन प्रक्रिया के लिए रजिस्ट्रेशन 11 जून से शुरू - मनीष सिसोदिया
ऑनलाइन डिलीवरी करने वालों के वैक्सीनेशन को प्राथमिकता