Saturday, December 05, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
लाठी खाया अन्नदाता ही सरकार को चलता करेगा, किसान की हर मांग का समर्थन करती है ‘आप’: योगेश्वर शर्माकृषि मंत्री तोमर शीघ्र किसानों से संवाद करें, MSP अध्यादेश लाकर किसानों को विश्वास दिलाएं: सुशील गुप्ताकेजरीवाल सरकार ने स्टेडियमों को जेलों में तब्दील करने से इंकार कर दिल्ली पुलिस को दिया झटका: आपएमसीडी में प्राॅपर्टी टैक्स से संबंधित खातों का ब्यौरा नहीं होने से लूट का पता लगना मुश्किल कामभाजपा की भ्रष्टाचार स्कीमों का खुलासा करेगी AAP, शुरू किया ‘BJP - 181’ अभियान: सौरभ भरद्वाजयूरिया खाद सहकारी सभाओं द्वारा किसानों तक पहुंचाने का प्रबंध करे पंजाब सरकार - कुलतार संधवांहरियाणा-पंजाब सरकारों की आपराधिक लापरवाही की वजह से जलती है पराली, साफ हवा में सांस नहीं ले पा रहे: आतिशीनिकम्मी सरकार के कारण किसानों की खराब हुई फसल, की भरपाई करे कैप्टन सरकार: प्रिंसीपल बुद्ध राम
National

भाजपा पार्षद ने ही भाजपा की एमसीडी में भ्रष्टाचार चरम पर होने का दावा करते हुए भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा को लिखा पत्र, इससे शर्मनाक बात नहीं हो सकती- दुर्गेश पाठक

November 18, 2020 11:43 PM

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के वरष्ठि नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि दिल्ली एमसीडी की सत्ता में बैठी भाजपा के भ्रष्टाचार की पोल खुद उसकी पार्षद ज्योति ने ही खोल कर रख दिया है। नांगलोई से पार्षद ज्योति ने एमसीडी में भ्रष्टाचार चरम पर होने का दावा करते हुए भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा को पत्र लिखा है, भाजपा के लिए इससे शर्मनाक बात नहीं हो सकती है। पार्षद ज्योति एमसीडी में भ्रष्टाचार रोकने के लिए सैकड़ों बार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और एमसीडी के मेयर से मिलीं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। जेपी नड्डा को लिखे शिकायती पत्र से साफ है कि एमसीडी में बैठी भाजपा की पूरी लीडरशिप भ्रष्टाचार में डूबी हुई है। दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता अपने ही वार्ड में फैली गंदगी को साफ नहीं करा पा रहे हैं, उन्हें अपने वार्ड के लोगों से माफी मांगनी चाहिए। आदेश गुप्ता को इसका भी जवाब देना चाहिए कि जब उनकी ही पार्टी की पार्षद ज्योति ने भ्रष्टाचार की शिकायत की थी, तब उन्होंने क्या कार्रवाई की?

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि हम लगातार कहते आ रहे हैं कि भाजपा शासित एमसीडी जो पिछले 15 सालों से सत्ता में है, वह पूरी तरह से भ्रष्टाचार का गंदा नाला बन चुकी है। भाजपा शासित एमसीडी भ्रष्टाचार के नए कीर्तिमान स्थापित कर चुकी है। कोई भी ऐसा काम नहीं है, जिसमें उन्होंने भ्रष्टाचार न किया हो, यह कोई भी काम सही तरीके से नहीं कर पाते हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में बिना भाजपा के नेताओं को पैसे दिए एक भी मकान नहीं बन सकता है। हमने पहले भी बताया था कि डेंगू मच्छर को मारने वाली दवाई में इन्होंने भ्रष्टाचार किया, प्रॉपर्टी टैक्स में 1400 करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार किया, कर्मचारियों का वेतन खा गए, बुजुर्गों की पेंशन खा गए और सेवानिवृत्त कर्मचारियों के कैशलेस इलाज के पैसे भी खा गए। भाजपा के अपने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद मनोज तिवारी ने भी माना है कि एमसीडी में भ्रष्टाचार है। एमसीडी में भ्रष्टाचार से पीड़ित होकर भाजपा की ही एक पार्षद ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखा है। यह पत्र जेपी नड्डा को उस समय लिखा गया होगा, जब भाजपा के मेयर या प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने उनकी बात नहीं सुनी होगी। भाजपा की इस निगम पार्षद ने पत्र में लिखा है कि एमसीडी में भ्रष्टाचार की चरम सीमा के बारे में जानकारी देने के लिए आपसे मिलने की प्रार्थना करती हूं। यह पार्षद नांगलोई के वार्ड नंबर 37 की ज्योति हैं। इन्होंने 17 नवंबर को यह पत्र जेपी नड्डा को लिखा है। पत्र में लिखा है कि हाईकोर्ट ने कई सारे निर्देश काम करने को लेकर एमसीडी को दिए हैं, लेकिन उनका पालन नहीं किया जा रहा है और एमसीडी में भ्रष्टाचार किया जा रहा है। उन्होंने पत्र में यहां तक लिखा है कि दिल्ली में एक जगह ऐसी है, जहां पर आरएसएस की शाखा लगती थी, लेकिन उस पर भी अब एमसीडी ने कब्जा कर लिया है। इससे बुरा क्या होगा कि भाजपा के नेता शाखा की जमीन तक को हड़प गए।

उन्होंने कहा कि मैंने या आम आदमी पार्टी के किसी अन्य नेता ने नहीं, बल्कि खुद भाजपा की ही पार्षद ने यह पत्र लिखा है। जब भाजपा के नेताओं ने उनकी कोई बात नहीं सुनी, तब परेशान होकर उन्होंने यह पत्र भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा है। इससे बड़ी शर्म की बात क्या होगी कि एमसीडी में भ्रष्टाचार इस कदर बढ़ चुका है कि अब तो एमसीडी में भाजपा के पार्षदों की भी सुनवाई नहीं हो रही है। दोषियों पर कार्रवाई नहीं होने का सिर्फ एक ही कारण है कि भाजपा में ऊपर से लेकर नीचे तक के सभी नेता भ्रष्टाचार में लीन हैं। एमसीडी में दिल्ली के लोगों ने 15 साल से भाजपा को सत्ता दे रखी है, लेकिन इन्होंने एमसीडी को बर्बाद कर दिया है। इन्होंने एमसीडी को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया है। आज एमसीडी के डॉक्टरों, नर्सों, शिक्षकों, सफाई कर्मियों और अन्य कर्मचारियों को वेतन तक नहीं मिल पा रहा है। यह सभी कर्मचारी एमसीडी के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

दुर्गेश पाठक ने कहा कि जब दिल्ली की जनता वोट देती है, तो उनके दिमाग में दिल्ली की सफाई होती है और वह दिल्ली की स्वच्छता को लेकर ही मतदान करते हैं। एमसीडी का काम दिल्ली में सफाई करना और सड़कों को, नालियों को और गलियों को साफ रखना है, लेकिन भाजपा के नेताओं ने एमसीडी में भ्रष्टाचार को इतना बढ़ा दिया है, कि दिल्ली में बड़े-बड़े कूड़े के पहाड़ खड़े कर दिए हैं। स्वच्छता में दिल्ली का नंबर सबसे नीचे से शुरू होता है। भाजपा के दिल्ली अध्यक्ष आदेश गुप्ता जी जहां दिल्ली में रहते हैं और खुद वहां के पार्षद हैं उस वर्ड में हर तरफ कूड़ा ही कूड़ा है। वहां सफाई नहीं हो पा रही है। यह नेता दिल्ली को क्या साफ करेंगे, जब इनके प्रदेश के अध्यक्ष के वार्ड में सफाई नहीं हो पा रही है। आदेश गुप्ता के मकान से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का घर सिर्फ 2 किलोमीटर की दूरी पर ही होगा। आदेश गुप्ता जी को अपने वार्ड के लोगों से माफी मांगनी चाहिए। आदेश गुप्ता जी को दिल्ली के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

प्रेस वार्ता में मौजूद दक्षिणी दिल्ली से आम आदमी पार्टी के नेता विपक्ष प्रेम सिंह चैहान ने कहा कि कुछ दिन पहले स्वच्छता में दिल्ली सबसे नीचे आई थी। दिल्ली में गंदगी का सबसे बड़ा कारण यह है कि भाजपा के नेता सिर्फ यही सोचते हैं कि किस तरह से एमसीडी में भ्रष्टाचार किया जा सके। मैं कहना चाहता हूं कि जब से भाजपा के पार्षदों को पता चला है कि भ्रष्टाचार के चलते इनका टिकट काट दिया गया है और इनको इस बार टिकट नहीं मिलेगा, तब से इन्होंने और तेजी से भ्रष्टाचार करना शुरू कर दिया है। भाजपा के बड़े नेताओं को इनपर तुरंत लगाम लगानी चाहिए और इन पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए।

ऊत्तरी दिल्ली नगर निगम से आम आदमी पार्टी के नेता विपक्ष विकास गोयल ने कहा कि आज एमसीडी में आप बर्थ सर्टिफिकेट या कोई और सर्टिफिकेट या कोई नक्शा पास कराने के लिए चले जाइए, तो आप बिना रिश्वत दिए काम नहीं करा सकते। जब विपक्ष ने सदन में सवाल पूछे तो इन्होंने एक तुगलकी फरमान निकाला कि हम किसी भी सवाल का जवाब नहीं देंगे। भाजपा भ्रष्टाचार में इतनी लिप्त हो गई है, कि अब वह विपक्ष के सवालों के जवाब तक नहीं देना चाहते। भाजपा के कई नेता भी मान चुके हैं कि एमसीडी में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हो रहा है। भाजपा की पार्षद भी लिख चुकी है कि एमसीडी में भ्रष्टाचार हो रहा है और उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। मैं भाजपा के नेताओं से कहना चाहता हूं कि जो भ्रष्टाचार का गंदा नाला आपने एमसीडी में शुरू किया है, उस की बदबू पूरी दिल्ली में फैल चुकी है। आप दिल्ली की जनता को परेशान मत कीजिए। अगर आप से एमसीडी नहीं चलती तो आप इस्तीफा दे दीजिए, हम अच्छे तरीके से एमसीडी को चला कर दिखा देंगे।

Have something to say? Post your comment
More National News
भारी मुश्किलों में है आंदोलनकारी किसान, जल्द से जल्द मांगें माने केंद्र सरकार-भगवंत मान
आईपी विश्वविद्यालय में फायर एंड लाइफ सेफ्टी ऑडिट कोर्स शुरू, उपमुख्यमंत्री ने उद्घाटन किया हेपेटाइटिस दिवस पर ई-समारोह में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा- "रोग से हर इंसान की सुरक्षा के लिए दिल्ली सरकार कृतसंकल्प" दिल्ली सरकार ने श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी बढ़ाई, कोरोना संकट में संशोधित मजदूरी का भुगतान के हुए निर्देश
मंत्री सत्येंद्र जैन ने सिंघु बॉर्डर पर किसानों से की मुलाकात, बोले- 'हम आपके किसानों के साथ है'
किसानों के लिए केजरीवाल की सेवा से प्रभावित होकर ‘आप’ में वापस आए विधायक जगतार सिंह जग्गा
सरकार की नीयत साफ हो तो संसद का विशेष सत्र बुलाकर मिनटों में हल हो सकता है किसानों का मसला - भगवंत मान
दिल्ली में भाजपा पार्षद रिश्वत में ₹10लाख लेते रंगे हाथ पकड़े गए - सौरभ भारद्वाज
बीजेपी राज में महिलाओं के लिए महफूज़ नहीं है उत्तराखंड - रजिया बेग ‘आप’ की महिला विंग ने कृषि कानून के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में आईटीओ चौराहे पर ह्यूमन चेन बनाकर विरोध दर्ज कराया