Friday, February 26, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
दुनिया की नजरों में फिर चमका दिल्ली का ‘शिक्षा मॉडल’, आतिशी ने ‘हार्वर्ड इन्डिया कॉन्फ्रेंस’ को किया संबोधितदिल्ली में विकास की गति को बढ़ाना है, तो एमसीडी के उपचुनाव में AAP को वोट दें - गोपाल रायBJP के पूर्व प्रत्याशी संतलाल चावड़िया और एमसीडी श्रमिक संघ के अध्यक्ष जेपी टोंक AAP में शामिलबिहार पंचायत चुनावों में योग्य उम्मीदवारों का समर्थन करेगी ‘आप’ - गुलफिशा युसूफभाजपा राज में हिन्दू भी सुरक्षित नहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को रिंकू शर्मा हत्याकांड समेत अन्य घटनाओं की जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दे देना चाहिए - सौरभ भारद्वाजDJB हिंसा मामले में उपाध्यक्ष चड्ढा ने खटखटाया कोर्ट का दरवाजा, BJP नेताओं के खिलाफ याचिका दायर कीविधायक आतिशी ने झुग्गी झोपड़ी कैम्प के 30 प्रधानों को AAP की सदस्यता दिलाई, कांग्रेस-भाजपा को छोड़ AAP में शामिल हुए युवा-महिला चलाएंगे एमसीडी चुनाव में झाड़ूविधायक राघव चड्ढा ने ‘मिशन सहारा’ के तहत बेघर और निराश्रितों को गर्म कम्बल वितरित किया
Punjabi News

तानाशाह मोदी के काले कानूनों के विरुद्ध कारगर हथियार साबित होंगे ग्राम सभाओं के प्रस्ताव - ‘आप’

September 27, 2020 01:04 PM

चण्डीगढ़: आम आदमी पार्टी पंजाब के अध्यक्ष और सांसद भगवंत मान ने ग्राम पंचायतों और ग्राम सभाओं को लोकतंत्र की जड़ें करार देते हुए कहा कि लोकतंत्रीय व्यवस्था का गला दबा कर देश खास करके किसानों पर थोपे जा रहे काले कानूनों को लागू होने से रोकने के लिए गांवों की ग्राम सभाएं कारगर हथियार साबित हो सकते हैं।

लोकतंत्र की जड़ें हैं पंचायतें और ग्राम सभाएं - भगवंत मान

पार्टी हेडक्वार्टर से जारी बयान और अपने सोशल मीडिया के द्वारा सांसद भगवंत मान ने बताया कि खेती विरोधी काले कानूनों को ग्राम सभाओं के द्वारा रद्द करने की मुहिम को भरपूर समर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि ग्राम सभाओं की ओर से सही प्रक्रिया के द्वारा खेती सम्बन्धित काले कानूनों के विरुद्ध पास किए प्रस्तव जब स्थानीय एसडीएम /डिप्टी कमिश्नरों के द्वारा प्रधान मंत्री और राष्ट्रपति के पास पहुंचेंगे तो सरकार हिल जाएगी, क्योंकि प्रजातांत्रिक व्यवस्था में संवैधानिक तौर पर ग्राम सभा के बहुमत वाले फैसले का कोई तोड़ नहीं है। यह प्रस्ताव काले कानूनों के विरुद्ध भविष्य में लड़ी जाने वाली कानूनी लड़ाई के दौरान भी बेहद अहम दस्तावेजी सबूत बनेंगे। ग्राम पंचायतों को यह कार्यवाही सही प्रक्रिया के द्वारा सफल करनी होगी।

ग्राम सभा के बारे में जानकारी देते भगवंत मान ने बताया कि ग्राम पंचायत वाले हर गांव में ग्राम सभा अस्तित्व रखती है और 18 साल का या इस से ऊपर का हर नागरिक ग्राम सभा का वोटर होता है। गांव का सरपंच/पंचायत कम से कम सात दिन के नोटिस पर विशेष एजंडे के अंतर्गत ग्राम सभा का इजलास बुला सकता है, इस लिए सरपंच को सम्बन्धित बीडीपीओ को पूछने की नहीं सिर्फ सूचित करने की जरूरत होती है। यदि किसी कारण या दबाव के कारण सरपंच ग्राम सभा का इजलास बुलाने से आनाकानी करता है तो गांव के 20 प्रतिशत वोटर हस्ताक्षर करके बीडीपीओ के द्वारा ग्राम सभा इजलास बुला सकते हैं। इजलास के एजंडे में खेती सम्बन्धित केंद्रीय कानूनों पर बहस-विचार कार्यवाही रजिस्टर पर दर्ज होना जरूरी है।

बहुमत के साथ के पास हुआ एजेंडा पंचायत के कार्यवाही रजिस्टर में दर्ज होना लाजिमी है, क्योंकि पंचायत के पत्र पैड पर ऐसी कार्यवाही कानूनी तौर पर कोई मायने नहीं रखती। भगवंत मान ने बताया कि नगर पंचायत इस तर्ज पर वार्ड सभाएं बुला सकती हैं। भगवंत मान ने पंजाब की सभी पंचायतों और गांवों से अपील की है कि वह पार्टीबाजी से ऊपर उठ कर ग्राम सभाएं बुला कर मोदी सरकार के काले कानूनों के विरुद्ध प्रस्ताव पास करें।

Have something to say? Post your comment
More Punjabi News News
बिहार के खेती बाजार पर PAU की सनसनीखेज रिपोर्ट के बारे में स्पष्टीकरण दें कैप्टन व बादल: भगवंत मान
पंजाब में कृषि को जोंक की तरह चूस रहा है भ्रष्ट सरकारी तंत्र, जिप्सम घोटाले की हो न्यायिक जांच - AAP
आम घरों के बच्चों को साजिश के तहत शिक्षा से वंचित रख रही है कैप्टन अमरिन्दर सरकार - भगवंत मान
डीएसजीएमसी चुनाव की प्रक्रिया शुरू, मंत्री राजेंद्र गौतम ने सभी दलों के साथ की बैठक
बिना मापदंड के लाखों उपभोक्ताओं के राशन कार्ड काटना गलत, AAP ने सौंपा मांग पत्र - मनजीत सिंह बिलासपुर
अगर सीधी भर्ती ही करनी है, तो क्यों बांधे पीपीएससी व एसएसएस बोर्ड जैसे ‘सफेद हाथी’ - प्रिंसीपल बुद्ध राम
मोगा सेक्स स्कैंडल-3 की सीबीआई से जांच करवाएं सीएम कैप्टन अमरिन्दर - हरपाल सिंह चीमा
छोटे किसानों को मनरेगा का लाभ सुनिश्चित करे कैप्टन सरकार - आप
बादलों की तरह अब कैप्टन अमरिन्दर सिंह हैं पंजाब की बर्बादी की असली जड़ - हरपाल सिंह चीमा
निकम्मे CM को हटा नहीं सकते, खुद इस्तीफे देने की हिम्मत दिखाएं कांग्रेसी मंत्री-विधायक: आप