Monday, September 21, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
‘आप’ प्रदेश उपाध्यक्ष भानुप्रकाश ने स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल को लेकर मंत्री टीएस पर किया पलटवारपटना में ‘आप’ ने आयोजित की मोहल्ला सभा, 2 सूत्री मांग पर कॉलोनी वासियों ने CM को भेजा प्रस्तावलोगों के सामूहिक प्रयासों से पिछले साल की तरह इस बार भी डेंगू को हराने में मदद मिलेगी: केजरीवाल‘आप’ ने तीन अहम नियुक्तियों का किया ऐलान, बरसट, नीना मित्तल और सुखी को मिली नई जिम्मेवारियांमोदी सरकार के हाथ में हैं शाही परिवार और बादलों की दुखती रग - हरपाल सिंह चीमाकिसानों के साथ कृषि बिल के नाम पर छलावा : ‘आप’दिल्ली सरकार ने ‘हर रविवार डेंगू पर वार’ अभियान में दिल्लीवासियों से सहयोग की अपील कीकृषि बिल के विरुद्ध वोट डालने के बारे में कोरा झूठ बोल रहे हैं सुखबीर सिंह बादल - भगवंत मान
National

AAP प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर ने स्वर्गीय बीएल सकलानी के घर पहुंचकर शोक संवेदना व्यकत की

September 15, 2020 03:22 PM

देहरादून: वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी बीएल सकलानी की शनिवार रात को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। कल सोमवार को आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एसएस कलेर और जोन प्रभारी विशाल चौधरी ने उनके घर पहुंचकर परिजनों को ढांढस बढ़ाते हुए शोक संवेदना व्यक्त की।

अध्यक्ष ने कहा- दुख की इस घड़ी में ‘आप’ पीड़ित परिवार के साथ है, और उनको हर सम्भव मदद का भरोसा दिया। स्व. सकलानी जी के द्वारा किये गए उत्तराखण्ड राज्य निर्माण के संघर्षों और उनके द्वारा अपने जीवन पर्यन्त किये गए कार्यो को निकट भविष्य में आने वाली पीढ़ी के लिए संग्रहित करने की बात कहते हुए जल्द से जल्द राज्यान्दोलनकारियों से जुड़ी हुई सभी दस्तावेजो के लिए एक भव्य संग्रहालय बनाने की बात भी कही।

आपको बता दें वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी बीएल सकलानी का शनिवार रात दिल का दौरा दौरा पड़ने से निधन हो गया था। उनके सीने में दर्द होने पर उन्हें दून मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। हालांकि स्वजनों और राज्य आंदोलनकारियों ने बीएल सर्कल आने की मौत के लिए अस्पताल प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया उनका आरोप था कि अस्पताल में समय पर वेंटिलेटर न मिलने के कारण उनकी मौत हो गई थी, जबकि उनका कोई टेस्ट भी नेगेटिव आया था।

आपको बता दें कि विगत 15 सालों से उत्तराखंड के राज्य आंदोलनकारी शहीदों की यादों को सहेजने के लिए स्थाई संग्रहालय की मांग कर रहे थे। यही नहीं उन्होंने कहा- आंदोलनकारियों के सपनों के उत्तराखंड में आज एक आंदोलनकारी का इस तरह से जाना, इस सरकार की नियति को बताता है। अगर एक सम्मानित राज्यान्दोलनकारी को ये सरकार, ईलाज मुहैया नहीं करवा पा रही, स्वास्थ्य विभाग पर आरोप लग रहे, उससे साफ जाहिर होता हैं कि प्रदेश के मुख्यमंत्री, अब आमजन के सरोकारों से बहुत दूर जा चुके हैं और जनता को भगवान भरोसे छोड़ चुके हैं।

Have something to say? Post your comment
More National News
सांसद संजय सिंह पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किए जाने पर cyss ने खोला यूपी योगी के खिलाफ मोर्चा
‘आप’ प्रदेश उपाध्यक्ष भानुप्रकाश ने स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल को लेकर मंत्री टीएस पर किया पलटवार
पटना में ‘आप’ ने आयोजित की मोहल्ला सभा, 2 सूत्री मांग पर कॉलोनी वासियों ने CM को भेजा प्रस्ताव
लोगों के सामूहिक प्रयासों से पिछले साल की तरह इस बार भी डेंगू को हराने में मदद मिलेगी: केजरीवाल
‘आप’ ने तीन अहम नियुक्तियों का किया ऐलान, बरसट, नीना मित्तल और सुखी को मिली नई जिम्मेवारियां
मोदी सरकार के हाथ में हैं शाही परिवार और बादलों की दुखती रग - हरपाल सिंह चीमा
किसानों के साथ कृषि बिल के नाम पर छलावा : ‘आप’
दिल्ली सरकार ने ‘हर रविवार डेंगू पर वार’ अभियान में दिल्लीवासियों से सहयोग की अपील की
कृषि बिल के विरुद्ध वोट डालने के बारे में कोरा झूठ बोल रहे हैं सुखबीर सिंह बादल - भगवंत मान
कृषि अध्यादेशों को लेकर राज्यपाल वीपी सिंह से मिलेगा ‘आप’ का शिष्टमंडल