Thursday, September 24, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढाकिसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमाकिसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शनकिसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भAAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
National

सीएम केजरीवाल ने रोजगार बाजार पोर्टल लांच किया, अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित के लिए TeamWork जरुरी

July 27, 2020 11:37 PM

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को ‘‘रोजगार बाजार’’ जॉब पोर्टल लांच किया, जो जॉब की तलाश करने वालों और जॉब देने वालों को आपस में जोड़ने का काम करेगी। यह जॉब पोर्टल लॉकडाउन से प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को शीघ्र उबारने में मददगार साबित होगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लोगों को नौकरी देने के इच्छुक नौकरी प्रदाता वेबसाइट jobs.delhi.gov.in पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं, और अपनी जॉब को पोस्ट कर सकते हैं। वहीं, इस वेबसाइट पर नौकरी की तलाश कर रहे लोग भी कई कटेगरी में उपलब्ध जॉब को अपनी योग्यता व अनुभवों के आधार पर पंजीकरण करते हुए प्राप्त कर सकते हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी व्यापारियों, उद्योगपतियों, गैर सरकारी संगठनों, दिल्ली के निवासियों और मीडिया से दिल्ली की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए एक साथ काम करने की अपील की है। यह पोर्टल विशेष रूप से उन लोगों की मदद करेगा, जिन्होंने कोरोना महामारी और क्रमिक लॉकडाउन से प्रभावित होकर अपनी नौकरियों और व्यवसायों को खो दिया है।

कोरोना के चलते लोगों को बहुत भारी नुकसान हुआ है, अब लोगों को नौकरियां चाहिए- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि दिल्ली में कोरोना को नियंत्रित करने के बाद अब हमें अगले पड़ाव की ओर जाना है। कोरोना काल के दौरान लोगों की नौकरियां चली गई, लोगों की दुकानें और फैक्ट्रियां बंद हो गई, कोरोना की वजह से बहुत सारे लोगों बहुत भारी नुकसान हुआ है, कई लोगों के घर में खाने की किल्लत भी हो गई, हालांकि इस दौरान दिल्ली सरकार ने खाने का इंतजाम किया, लेकिन अब लोगों को नौकरियां और काम- धंधे चाहिए। लोगों की दुकानें खुलनी चाहिए। अब हम सभी को मिल कर अर्थ व्यवस्था की ओर ध्यान देना पड़ेगा। मुझे अपने दिल्ली के लोगों पर पूरा भरोसा है। दिल्ली के लोगों ने बड़े-बड़े काम करके दिखाए हैं। आज मैं दिल्ली के सभी निवासियों से अपील करता हूँ कि आइए मिलकर अपनी अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए सभी कदम उठाएं। मैं दिल्ली के सभी व्यापारियों, उद्योगपतियों, प्रोफेशनल्स, इंडस्ट्री व मार्केट एसोसिएशन, सभी एनजीओ, मीडिया और सभी सरकारी संस्थाओं से अपील करता हूं कि आइए मिल कर दिल्ली की अर्थ व्यवस्था को सुधारने की तरफ कदम बढ़ाते हैं। 

दिल्ली छोड़ कर गए प्रवासियों से अपील, दिल्ली आपकी है, वापस लौट आएं- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब कोरोना चल रहा था, तब भी मैंने इस बात की वकालत की थी कि लॉकडाउन जल्द से जल्द खुलना चाहिए। जब लॉकडाउन खुला, तो दिल्ली में केस बढ़े। इस दौरान हमने अपनी स्थिति को सुधारा। हमने दुबारा लॉकडाउन नहीं किया। मुझे इस बात की खुशी है कि हम दोबारा बिना लॉकडाउन किए कोरोना को नियंत्रित किए। आज देश भर में अलग-अलग राज्यों व शहरों में सुनने को मिल रहा है कि दो दिन, चार दिन या 10 दिन का लॉकडाउन हो गया। वहां दोबारा लॉकडाउन लगाने की जरूरत पड़ रही है। जबकि दिल्ली को दोबारा लॉकडाउन लगाने की जरूरत नहीं पड़ी। अब हम सभी को मिल कर दिल्ली की अर्थव्यवस्था को ठीक करना है। दिल्ली से बहुत सारे प्रवासी मजदूर भाई तीन महीने पहले दिल्ली छोड़ कर घर चले गए थे। वे सारे लोग वापस भी आने लगे हैं। यह आपकी ही दिल्ली है। उस समय कोरोना बढ़ रहा था और लोग डर कर चले गए थे, लेकिन दिल्ली में कोरोना की स्थिति सुधर रही है। काम धंधे खुलने लगे हैं। मैं सभी से अपील करता हूँ कि जो लोग भी घर गए थे, वो अब वापस दिल्ली आ जाएं।

जॉब की तलाश करने वालों और जॉब देने वालों के बीच तालमेल बैठाने के लिए वेब पोर्टल लांच किया- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जो इंडस्ट्री बंद हो गई थी, वह आज दोबारा खुलने लगी है। निर्माण कार्य भी दोबारा शुरू होने लगा है, लेकिन काम करने वाले लोग नहीं मिल रहे हैं। पिछले तीन-चार महीने में लोग अपने-अपने घर चले गए, इसलिए इंडस्ट्री और दुकान वालों को आदमी नहीं मिल रहे हैं। निर्माण कार्य करने वालों को आदमी नहीं मिल रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ, जिन लोगों की नौकरियां गई हैं, उन लोगों को काम नहीं मिल रहा है। इन दोनों के बीच में तालमेल बैठाने के लिए आज दिल्ली सरकार एक पोर्टल वेबसाइट शुरू करने जा रही है। इस पोर्टल का नाम jobs.delhi.gov.in है। जिसको भी काम करने के लिए आदमी चाहिए, वो इस वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं कि उन्हें किस तरह की योग्यता वाले कर्मचारी चाहिए। वे योग्यता, पद और वेतन आदि सभी जानकारी वेबसाइट पर डाल सकते हैं। वहीं, जिनको नौकरी चाहिए, वो भी इस वेबसाइट पर जाकर अपना पंजीकरण कर सकते हैं। पंजीकरण में वे बताएं कि कितना पढ़े है, कितना अनुभव है और वह किस क्षेत्र में काम करना चाहते हैं। वेबसाइट पर जॉब की कई कटेगरी दी गई है। आप एक से अधिक जॉब कटेगरी के विकल्प का चुनाव कर सकते हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह वेब पोर्टल एक तरह से रोजगार बाजार है। इस वेबसाइट के उपर हम एक रोजगार बाजार शुरू कर रहे हैं, जहां पर नौकरी देने वाले आएंगे और नौकरी लेने वाले आएंगे। यहां दोनों का मिलाप होगा और लोगों को नौकरियां मिलेगी। दिल्ली सरकार आज यह पहल शुरू कर रही है। मैं समझता हूँ कि इससे व्यापारी, उद्यमी, निर्माण कंपनी और दुकानदार सभी को फायदा होगा और जो लोग नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उनको भी फायदा होगा।

एक साथ कई जॉब के लिए कर सकते हैं आवेदन- गोपाल राय

दिल्ली के श्रम मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार के साथ-साथ दिल्ली की अर्थव्यवस्था सुधारने के लिए सरकार की तरफ इस पहल की शुरूआत की गई है। जो बेरोजगार युवा हैं और जिन्हें नौकरी चाहिए, वो रोजगार के लिए लांच की गई वेबसाइट jobs.delhi.gov.in को याद कर लें। कोई भी गूगल में जाकर इस वेबसाइट को सर्च कर सकता है। वेबसाइट के सबसे उपर रोजगार बाजार लिखा हुआ है। यहां पर आपको जिस तरह की नौकरी चाहिए, उस तरह की कटेगरी उसमें पड़ी हुई है, उसे डाल कर आप जॉब खोज सकते हैं। आप एक से अधिक स्थानों पर नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। श्रम मंत्री ने कहा कि जिन उद्यमी, दुकानदार, कारोबारी या प्रोफेशनल्स के पास वैकेंसी है, वे अपनी वैकेंसी डाल सकते हैं। उनको किस तरह का काम करने वाले कर्मचारी की जरूरत है, इसकी जानकारी दें। यहां पर दोनों के लिए विकल्प खुला हुआ है। दोनों एक-दूसरे से संपर्क कर सकते हैं, और एक दूसरे को नौकरी या सहयोग देने में मदद कर सकते हैं।

दिल्ली सरकार की वेबसाइट पूरी तरह निशुल्क, किसी के मांगने पर पैसा न दें- गोपाल राय

श्रम मंत्री गोपाल राय ने कहा कि नौकरी के लिए कई प्राइवेट वेबसाइट भी हैं, लेकिन दिल्ली सरकार के वेब पोर्टल पर पंजीकरण आदि के लिए किसी तरह के पैसे की जरूरत नहीं है। सरकार की तरफ से यह पूरी तरह से निशुल्क उपलब्ध कराया गया है। अगर आपसे कोई बीच में पैसा मांगता है, तो आपको पैसा देने की जरूरत नहीं है। यह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी की सरकार की तरफ से निशुल्क सेवा उपलब्ध कराई गई है। कोई भी दलाल बीच में आपसे नौकरी के लिए पैसा मांगता है, तो पैसा देने की जरूरत नहीं है। आप अपना पंजीकरण करके लोगों से सीधे संपर्क कर सकते हैं। इसीलिए इस वेबसाइट को लांच किया गया है। कारोबारी, उद्यमी से खासकर निवेदन है कि आपको जितने कर्मचारियों की जरूरत है, उसके लिए इस पर पंजीकरण करें। अगर किसी तरह की दिक्कत या परेशानी है, तो विभाग आपके संपर्क में है, और हम मदद करेंगे। साथ ही साथ सरकारी विभाग में आईटीआई, पॉलिटेक्निक स्कील सेंटर हैं, वहां से तमाम बच्चे निकलते हैं। मेरा उनसे भी अनुरोध है कि वे भी वेबसाइट पर पंजीकरण करें, ताकि लोगों को कुशल कर्मचारी भी मिल सके। दिल्ली में सरकार का तमाम कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा है, उन जगहों पर कई सरकारी ठेकेदार कह रहे हैं कि हमें वर्कर नहीं मिल रहे हैं। गोपाल राय ने कहा कि बहुत सारे मजबूर ऐसे हैं, जो वेबसाइट नहीं चलाना जानते हैं। उन तमाम नौजवानों से अपील करना चाहता हूँ कि आपके आसपास या किसी मजदूर को जानते हैं, जो वेबसाइट नहीं चलाना जानता है, तो आप उसकी भी मदद करिए। उसको यदि रोजगार की जरूरत है, तो आप वेबसाइट jobs.delhi.gov.in पर उसको पंजीकृत करा दीजिए।

वेब पोर्टल पर इस तरह करें पंजीकरण

1.   सबसे पहले आप jobs.delhi.gov.in वेबसाइट पर जाएँ।
2.   यहाँ आपको 2 ऑप्शन मिलेंगे। अगर आप नौकरी की तलाश में हैं तो “मुझे नौकरी चाहिए” ऑप्शन को चुनें। अगर आप कर्मचारी की तलाश में हैं तो “मुझे स्टाफ चाहिए” ऑप्शन को चुनें।
3.  अपना रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए अपना 10 अंकों का मोबाइल नंबर डालें।
4.  आपके मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिये ओटीपी नंबर आएगा, इसे आप ओटीपी स्क्रीन पर डालें।
5.  अगर आप नौकरी ढूंढ रहे हैं तो अपनी पसंद की जॉब केटेगरी चुनें और फॉर्म में मांगी गई जानकारी भरकर अपना प्रोफाइल बनाएं।
6.  अब आपके द्वारा दी गई जानकारियों से मैच करती हुई जो भी पोस्टेड जॉब होगी, वो यहाँ आ जाएगी।
7.  अपनी पसंद की नौकरी पर क्लिक करें और एम्प्लॉयर से कॉल या व्हाट्सएप्प के माध्यम से कनेक्ट करें। आप जिस भी एम्प्लॉयर से कनेक्ट करेंगे, वो आपकी एप्लिकेशन की लिस्ट में आ जाएगा।
8.  माई प्रोफाइल पेज द्वारा आप अपनी प्रोफाइल अपडेट कर सकते हैं, और लॉग आउट कर सकते हैं।
9.  अगर आप कर्मचारी ढूंढ रहे हैं तो पहले नौकरी से जुड़ी सारी जानकारी दें, और अपनी कम्पनी के बारे में बताएं।
10.  आपके द्वारा पोस्ट किए गए सभी रोजगार के अवसर माई जॉब्स में दिख जाएंगे।
11. जब भी कोई नौकरी का इच्छुक व्यक्ति आपकी जॉब पोस्ट पर अप्लाइ करेगा तो आपको वह  माई जॉब्स में दिख जाएगा।और इस तरह से रोजगार बाजार वेबसाइट पर जाकर आप नौकरी भी ढूंढ भी सकते हैं और कर्मचारी भी ढूंढ सकते हैं।

रोजगार बाजार साइट पर पहले 6 घंटों में जबरदस्त प्रतिक्रिया आई

रोजगार विभाग के आंकड़ों के अनुसार, पहले छह घंटों के भीतर ही रोजगार बाजार साइट को जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है। अभी तक 51,403 नौकरी चाहने वालों ने पंजीकरण कराया था, जबकि 1071 नियोक्ताओं ने 18,585 रिक्तियों को पोस्ट किया है। जॉब पोर्टल, नौकरी चाहने वालों को फोन कॉल या व्हाट्सएप्प के माध्यम से नियोक्ताओं से जुड़ने के लिए मदद प्रदान करता है। पहले छह घंटों में, 26,722 लोग जुड़ने की शुरूआत कर चुके है। नियोक्ताओं द्वारा पोस्ट की गई रिक्तियों के साथ शीर्ष 5 नौकरी श्रेणियों की सूची निम्नलिखित है-
सेल्स, मार्केटिंग, बिजनेस वकास - 11,367
कंस्ट्रक्शन - 1,298
अकाउंटेंट - 1051
डिलीवरी - 1030
ग्राहक सेवा/टेली कॉलर - 1007

जॉब आवेदकों की संख्या के आधार पर शीर्ष 5जॉब कटेगरी की सूची निम्नलिखित है-

बैक ऑफिस/डाटा एंट्री - 17,527
टीचिंग - 7567
सेल्स, मार्केटिंग, बिजनेस विकास - 7429
ग्राहक सेवा/टेली कॉलर - 7036
अकाउंटेंट - 6379

 

Have something to say? Post your comment
More National News
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’
मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढा
किसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमा
किसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शन
किसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़
कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’
लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भ
AAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
सांसद संजय सिंह पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किए जाने पर cyss ने खोला यूपी योगी के खिलाफ मोर्चा
‘आप’ प्रदेश उपाध्यक्ष भानुप्रकाश ने स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल को लेकर मंत्री टीएस पर किया पलटवार