Monday, November 30, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
लाठी खाया अन्नदाता ही सरकार को चलता करेगा, किसान की हर मांग का समर्थन करती है ‘आप’: योगेश्वर शर्माकृषि मंत्री तोमर शीघ्र किसानों से संवाद करें, MSP अध्यादेश लाकर किसानों को विश्वास दिलाएं: सुशील गुप्ताकेजरीवाल सरकार ने स्टेडियमों को जेलों में तब्दील करने से इंकार कर दिल्ली पुलिस को दिया झटका: आपएमसीडी में प्राॅपर्टी टैक्स से संबंधित खातों का ब्यौरा नहीं होने से लूट का पता लगना मुश्किल कामभाजपा की भ्रष्टाचार स्कीमों का खुलासा करेगी AAP, शुरू किया ‘BJP - 181’ अभियान: सौरभ भरद्वाजयूरिया खाद सहकारी सभाओं द्वारा किसानों तक पहुंचाने का प्रबंध करे पंजाब सरकार - कुलतार संधवांहरियाणा-पंजाब सरकारों की आपराधिक लापरवाही की वजह से जलती है पराली, साफ हवा में सांस नहीं ले पा रहे: आतिशीनिकम्मी सरकार के कारण किसानों की खराब हुई फसल, की भरपाई करे कैप्टन सरकार: प्रिंसीपल बुद्ध राम
National

अवैध खनन रोकने के लिए अध्यापकों की ड्यूटियों के खिलाफ कैप्टन सरकार को ‘आप’ ने घेरा

June 20, 2020 09:21 AM

चंडीगढ़: पंजाब में धक्के से हो रहे अवैध खनन को रोकने के लिए सरकार द्वारा रात को नाकों पर अध्यापकों को तैनात किए जाने वाले तुगलकी फरमान के विरुद्ध आम आदमी पार्टी(आप) पंजाब के नेतागणों ने कैप्टन सरकार को जमकर कोसते होए घेरा। अंत जबरदस्त किरकिरी करवाने के उपरांत सरकार को अपना बेतुका फैसला वापस लेना पड़ा।

शनिवार को जैसे ही दफ्तर उप मंडल फगवाड़ा का 11जून के हुक्म सामने आए तो आम आदमी पार्टी के सीनियर नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा, कोर समिति के चेयरमैन और विधायक प्रिंसीपल बुद्ध राम, सीनियर नेता और विधायक अमन अरोड़ा और विधायक मीत हेयर ने मीडिया और सोशल मीडिया के द्वारा सरकार पर ताबड़तोड़ हमले शुरू कर दिए। नतीजा कुछ घंटों के बाद ही सरकार बैक-फुट पर आ गई और फैसला वापस ले लिया।

आम आदमी पार्टी हैडक्वाटर द्वारा जारी बयान के द्वारा हरपाल सिंह चीमा ने 40 से अधिक अध्यापकों की रात को नाकों पर ड्यूटियां लवाने वाले फैसले को बहुत ही निराशाजनक फैसला बताते हुए इस को तुरंत वापस लेने की मांग की। उन्होंने कहा कि अध्यापकों से बच्चों की बेहतर पढ़ाई के लिए सेवाएं लेने की बजाए सरकार की तरफ से कभी शराब माफिया और कभी माइनिंग माफिया के विरुद्ध सेवाएं लेने के बारे में सरकार ने सोच भी कैसे लिया?

प्रिंसीपल बुद्ध राम ने इस फैसले को एक जाहिल और शर्मनाक फैसला बताया। उन्होंने कहा कि अध्यापकों को ऑन-लाइन पढ़ाई पर केंद्रित करना चाहिए। विधायक अमन अरोड़ा ने कैप्टन सरकार की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि अध्यापकों की अवैध खनन रोकने के लिए रात्रि के समय नाकों पर ड्यूटियां लगाने के आदेशों ने कैप्टन सरकार के दिवालियापन की अंत जाहिर किया है।

अमन अरोड़ा ने सरकार की तरफ से यह फैसला वापिस लिए जाने को समय पर गलती सुधारने की कार्यवाही बताते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह को नसीहत दी कि वह गलतियों से सबक लेकर सरकार को सरकार की तरह चलाएं। ‘आप’ विधायक ने कहा कि इस समय सरकार बिनाचालक वाली बस की तरह चल रही है, यदि अभी भी न संभले तो ‘एक्सीडैंट’ तय है। अमन अरोड़ा ने कहा कि ऐसे बेतुके फरमान साबित करते हैं कि सत्ताधारियों को पता ही नहीं चल रहा कि क्या हो रहा है? क्या करना है और कैसे करना है?

मीत हेयर ने कहा कि अध्यापक देश के निर्माता हैं और इन अध्यापकों से देश का भविष्य कहे जाने वाले युवा वर्ग के उज्जवल भविष्य बनाने के लिए सेवाएं लेनी चाहिए।

Have something to say? Post your comment
More National News
पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम कैप्टन अमरिंदर के बीच सांठगांठ, देश का किसान ठगा जा रहा है- राघव चड्ढा आजादी के बाद देश को पहला ऐसा गृहमंत्री मिला है, जो देश को गंभीर हालात में छोड़कर हैदराबाद में नगर निगम चुनाव का प्रचार कर रहे है- सौरभ भारद्वाज देश के किसान अपनी फसल की कीमत मांग रहे और भाजपा सरकार उनके साथ आतंकवादियों जैसा व्यवहार कर रही: संजय सिंह गृहमंत्री शाह के पास हैदराबाद में चुनाव प्रचार करने का समय है, लेकिन किसानों से बात करने का नहीं अड़ियल रवैया छोड़ किसानों की इच्छा अनुसार प्रदर्शन करने का स्थान दे मोदी सरकार: आप
धरना स्थान पर सभी जरूरी वस्तुओं का प्रबंध करके किसानों की हर संभव मदद करेगी केजरीवाल सरकार
दिल्लीवालों को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए हमारे पास पर्याप्त साधन मौजूद: सत्येंद्र जैन
उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने सरकारी स्कूल में विश्वस्तरीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान का उद्घाटन किया, ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार भी शामिल
लाठी खाया अन्नदाता ही सरकार को चलता करेगा, किसान की हर मांग का समर्थन करती है ‘आप’: योगेश्वर शर्मा
कृषि मंत्री तोमर शीघ्र किसानों से संवाद करें, MSP अध्यादेश लाकर किसानों को विश्वास दिलाएं: सुशील गुप्ता