Thursday, September 24, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढाकिसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमाकिसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शनकिसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भAAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
National

फैक्टरी मालिकों और सरकारी तंत्र की मिलीभगत के बिना संभव नहीं शराब का गोरखधंधा: अमन अरोड़ा

May 18, 2020 11:50 PM

चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी(आप) पंजाब के सीनियर और सुनाम से विधायक अमन अरोड़ा ने राज्य में शराब माफिया के बारे में मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह को पत्र लिखकर जहां कई अहम सुझाव दिए हैं, वहीं कहा है कि सत्ताधारी राजनीतिज्ञों, शराब फैक्ट्रियों के मालिकों और सरकारी तंत्र की उच्च स्तरीय मिलीभगत के बिना अरबों रुपए की नाजायज शराब का गोरखधंधा संभव नहीं।

 
पार्टी हेडक्वार्टर से जारी बयान के द्वारा अमन अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह जिनके पास आबकारी विभाग की भी जिम्मेदारी है, शराब माफिया का पता लगाने की काबलीयत नहीं रखते। उन्होंने मांग की है कि कैप्टन सभी राजनीतिक पार्टियों के साथ सम्बन्धित विधायकों की सांझी जांच समिति गठित करें, जो 15दिनों के अंदर-अंदर शराब माफिया चला रहे समूचे गिरोह और उसके सभी राजनीतिक और प्रशासनिक आकाओं को नंगा कर देगी।

अमन अरोड़ा की ओर से दिए गए सुझावों के मुताबिक पहला इन नाजायज शराब फैक्टरियों में शराब बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला सप्रिट असली है, और यह गोन से बना है। दूसरा, एक केमिकल जो शराब को ब्लैंड करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जिसको केरोम कहते हैं, वह बाहर खुली मार्केट में नहीं बिकता, क्योंकि यह ओर किसी काम नहीं आता और यह सिर्फ और सिर्फ डिस्टीलरियों के ही काम आता है। इस के ड्रंम पर एक विशेष कोड होता है, जिससे यह भली-भांति पता लगाया जा सकता है कि इस कोड कारामल का ड्रंम पंजाब की किस डिस्टिलरी को सप्लाई किया गया है और फैक्टरी से बाहर वह कैसे आ गया?

अरोड़ा ने कहा कि यह नाजायज शराब फैक्ट्रियां असली डिस्टीलरियों के आसपास के इलाके में ही पनपते हैं जिससे वहीं से आसानी के साथ तस्करी कर इनमें कारामल आदि पहुंचाया जा सके और पकड़े गए बोतलें, लेबल आदि भी नजदीकी असली डिस्टीलरियों के मारका वाले ही होते हैं।

अमन अरोड़ा ने कहा कि सबसे अधिक अहम बात यह है कि अब तक जितनी भी नाजायज शराब फैक्ट्रियां पकड़ी गई हैं और उनमें जो ब्रांड की शराब बनाई जाती थी, आज तक किसी भी असली डिस्टिलरी वाले ने सरकार या पुलिस के पास यह शिकायत दर्ज नहीं करवाई कि कोई नकली शराब बना कर उनके ब्रांड का नुक्सान कर रहा है। उनकी चूप्पी अपने आप में काफी कुछ बयान करती है और न ही आज तक आबकारी विभाग ने इनसे इस पक्ष से कोई जांच की है।

अमन अरोड़ा ने अपने पत्र में निवेदन किया है कि शराब से जुड़े इस सभी गोरखधंधे का पर्दाफाश करने के लिए आम आदमी पार्टी के मुताबिक विधानसभा की एक उच्च-स्तरीय सर्व-पार्टी समिति बनाई जाए।

Have something to say? Post your comment
More National News
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’
मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढा
किसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमा
किसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शन
किसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़
कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’
लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भ
AAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
सांसद संजय सिंह पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किए जाने पर cyss ने खोला यूपी योगी के खिलाफ मोर्चा
‘आप’ प्रदेश उपाध्यक्ष भानुप्रकाश ने स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल को लेकर मंत्री टीएस पर किया पलटवार