Monday, January 25, 2021
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
मोहल्ला सभाओं में आकर जनता खुद कर रही BJP के भ्रष्टाचार का खुलासा, जनता में भाजपा के प्रति जबरदस्त गुस्सा‘आप’ ने स्थानीय चुनाव में कांग्रेस द्वारा सरकारी तंत्र के दुरुपयोग की आशंका जताईबिहार में हजारों स्टूडेंट्स का भविष्य खतरे में, ‘आप’ सांसद संजय सिंह ने सीएम नीतीश को लिखा पत्रजनता ने ‘आप’ को एमसीडी सौंपकर दिल्ली को विश्वस्तरीय राजधानी बनाने का मन बना लिया है- दुर्गेश पाठकBJP शासित MCD सेवानिवृत कर्मचारियों को कैशलेस मेडिकल सुविधा देने के नाम पर करोड़ों रुपए खा गईभाजपा के भ्रष्टाचार से परेशान होकर कापसहेड़ा से पार्षद आरती और पूर्व पार्षद अनिल AAP में शामिलविधायक चड्ढा ने मिड-डे मील के 3200 राशन किट का वितरण किया, किट में चावल, दाल और रिफाइंड तेल मौजूदमोहल्ला सभाओं में जनता ने कहा- “भाजपा ने एमसीडी को भ्रष्टाचार का कारखाना बना दिया है…”
National

कैप्टन सरकार को आम लोगों की अपेक्षा शराब माफिया की ज़्यादा फिक्र - हरपाल सिंह चीमा

April 22, 2020 11:59 PM

चंडीगढ़: आम आदमी पार्टी(आप) पंजाब के सीनियर व विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने लॉकडाउन(कर्फ्यू) के दौरान राज्य में शराब के ठेके खोलने सम्बन्धित लाए प्रस्ताव का जोरदार विरोध किया है। चीमा के अनुसार ऐसे हलातों में ठेके खोलने से सिर्फ शराब माफिया को मौज लगेगी, जबकि शराब के कारण आम लोगों के घरों में क्लेश बढ़ेंगे।

‘आप’ ने शराब के ठेके खोलने के लिए इजाजत मांगने का किया विरोध, बेहतर होता जरूरतमंद परिवारों, किसानों-मजदूरों और इंडस्ट्री के लिए विशेष पैकेज मांगते मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह 

‘आप’ हैडक्वाटर से जारी बयान के द्वारा हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि ऐसे माहौल में ठेकों का खुलना सामाजिक और नैतिक स्तर पर पूरी तरह गलत होगा। इसलिए पंजाब में कैप्टन सरकार(कांग्रेस) की ओर से केंद्र सरकार(बीजेपी) से ठेके खोलने सम्बन्धित मांगी इजाजत पंजाब सरकार को वापस लेनी चाहिए, यदि पंजाब सरकार ऐसा नहीं करती तो केंद्र सरकार पंजाब में शराब के ठेके खोलने की कदाचित इजाजत न दे।

हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि बेशक पंजाब सरकार सरकारी मालीया(रेविन्यू) का हवाला दे कर मंजूरी मांग रही है, परंतु वास्तव में कैप्टन सरकार को अपने चहेतों की तरफ से चलाए जाते शराब माफिया की फिक्र सता रही है। चीमा ने कहा कि हमें यह कहने में रत्ती भर भी गुरेज नहीं है कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के खासमखास शराब फैक्टरियों के मालिक हैं। चीमा ने कहा कि सरकार के ऐसे फैसले साबित करते हैं कि सरकार को गरीबों, जरूरतमंदों को राशन, मंडियों में परेशान हो रहे किसान-मजदूर-आड़तीए व कोरोना-वायरस से सीधी लड़ाई लड़ रहे डॉक्टरों, नर्सों, आशा वर्करों,आंगणवाड़ी वर्करों, एम्बुलेंस चालकों, पैरा मेडिकल स्टाफ और दिन रात ड्यूटी कर रहे पुलिस प्रशासन और बिजली विभाग के स्टाफ की बजाए शराब माफिया की ज्यादा फिक्र है।

चीमा ने कहा कि शराब माफिया पहले भी सरकारी खजाने पर भारी थी, यदि लॉकडाउन के दौरान ठेके खुलने की इजाजत मिल जाती है तो भी वित्तीय फायदा सरकार का नहीं बल्कि शराब माफिया का ही होगा।

Have something to say? Post your comment
More National News
विधायक राघव चड्ढा ने सर गंगाराम अस्पताल का दौरा किया, कोविड-19 टीकाकरण अभियान की जानकारी ली
झुग्गीवासियों के पूर्ववास के लिए 9315 फ्लैट्स बनकर तैयार, सीएम केजरीवाल ने आवंटन दिए निर्देश
चुनाव से पहले एमसीडी को पूरी तरह से लूटने के इरादे से भाजपा शासित दक्षिणी नगर निगम ने पार्षद निधि 50 लाख से बढ़ाकर 1 करोड़ रुपए करने की घोषणा की है- सौरभ भारद्वाज
देवभूमि उत्तराखंड की पीड़ा को उजागर करता है यह कवि सम्मेलन : उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया
दिल्ली और पंजाब के बाहर महाराष्ट्र में ‘आप’ ने 96 सीटें जीती, सोशल मीडिया पर विजेताओं को दी बधाईयां
मोहल्ला सभाओं में आकर जनता खुद कर रही BJP के भ्रष्टाचार का खुलासा, जनता में भाजपा के प्रति जबरदस्त गुस्सा आम आदमी पार्टी ने अपने हक की लड़ाई लड़ रहे बेरोजगार शिक्षकों का किया समर्थन ‘आप’ ने स्थानीय चुनाव में कांग्रेस द्वारा सरकारी तंत्र के दुरुपयोग की आशंका जताई
बिहार में हजारों स्टूडेंट्स का भविष्य खतरे में, ‘आप’ सांसद संजय सिंह ने सीएम नीतीश को लिखा पत्र
जनता ने ‘आप’ को एमसीडी सौंपकर दिल्ली को विश्वस्तरीय राजधानी बनाने का मन बना लिया है- दुर्गेश पाठक