Thursday, September 24, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढाकिसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमाकिसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शनकिसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भAAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
National

आम आदमी पार्टी पंजाब का जल हरियाणा में नहीं जाने देगी, मान ने पुनः विश्वास दिलाया

February 24, 2017 12:24 PM

चण्डीगढ़:

आम आदमी पार्टी (आप) ने आज पंजाब एवं हरियाणा की जनता को शिरोमणी अकाली दल एवं इण्डियन नैश्नल लोक दल (इनैलो) के ख़तरानक षड़यंत्रों से सावधान रहने हेतु कहा क्योंकि वे केवल राजनीतिक हितों के लिए सतलुज-यमुना संपर्क (एस.वाई.एल.) नहर का मुद्दा उठा कर कानून एवं व्यवस्था की समस्या उत्पन्न कर रहे हैं।

आज यहां एक सख़्त विज्ञप्ति में आम आदमी पार्टी के सांसद एवं चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष भगवन्त मान ने कहा कि आम आदमी पार्टी, जिसके पंजाब में सरकार बनाने की संभावना है, हरियाणा को किसी भी परिस्थिति में पानी जाने नहीं देगी क्योंकि पंजाब के पास अतिरिक्त जल है ही नहीं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी अपने स्टैण्ड पर पूर्णतया कायम है तथा नदी-जल का विवाद हल करने के लिए हर प्रकार के कानूनी एवं राजनीतिक कदम उठाएगी।

आम आदमी पार्टी (आप) ने आज पंजाब एवं हरियाणा की जनता को शिरोमणी अकाली दल एवं इण्डियन नैश्नल लोक दल (इनैलो) के ख़तरानक षड़यंत्रों से सावधान रहने हेतु कहा क्योंकि वे केवल राजनीतिक हितों के लिए सतलुज-यमुना संपर्क (एस.वाई.एल.) नहर का मुद्दा उठा कर कानून एवं व्यवस्था की समस्या उत्पन्न कर रहे हैं।

मान ने इण्डियन नैश्नल लोक दल से यह भी पूछा कि वह विगत दस वर्षों तक एस.वाई.एल. नहर के मुद्दे पर चुप क्यों रही, जबकि इस समय के दौरान पंजाब पर उस की भागीदार शिरोमणी अकाली दल का राज्य रहा था। उन्होंने कहा कि अब यह पक्का हो गया है कि शिरोमणी अकाली दल सत्ता से बाहर होने जा रहा है, ‘इनैलो’ ने अचानक एस.वाई.एल. नहर खोदने का निर्णय ले लिया। उन्होंने शिरोमणी अकली दल एवं इण्डियन नैश्नल लोक दल दोनों से कहा कि वह ऐसे ढकोंसले न करें तथा ख़ून-ख़राबे वाली परिस्थिति उत्पन्न न करें।

मान ने कहा कि शिरोमणी अकाली दल का व्यवहार बिल्कुल पराजित सेना की तरह है, जो अब रणभूमि से वापिस जाते समय बारूदी सुरंगें बिछा रही है। उन्होंने बादल एवं कैप्टन अमरेन्द्र से कहा कि वे पंजाब के विकास एवं प्रगति के पथ पर कोई रुकावटें खड़ी न करें तथा पंजाब की जनता के निर्णय को थोड़ा शिष्टाचार से स्वीकार करें।

मान ने कहा कि शिरोमणी अकाली दल एवं कांग्रेस ही मुख्यतः पंजाब की नदियों का जल हरियाणा को बेचने हेतु ज़िम्मेदार रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रकाश सिंह बादल 1978 में मुख्य मंत्री हुआ करते थे, जब उन्होंने हरियाणा के मुख्य मंत्री देवी लाल को एस.वाई.एल. नहर हेतु सर्वेक्षण करने की अनुमति दी थी। मान ने विधान सभा के रेकार्डों के हवाले से कहा,‘‘तब देवी लाल ने हरियाणा विधान सभा में यह घोषणा की थी कि जो कुछ उनसे पूर्व के मुख्य मंत्री भजन लाल एवं बन्सी लाल प्राप्त नहीं कर पाए थे, अब वह (देवी लाल) अपने प्रिय मित्र प्रकाश सिंह बादल की सहायता से प्राप्त करके दिखाएंगे।’’

आम आदमी पार्टी के सांसद ने कहा कि पंजाब के हितों का हरियाणा के साथ समझौता करने के बदले देवी लाल ने बादल परिवार को ऑर्बिट रिज़ोटर््स स्थापित करने हेतु गुड़गांव में प्रमुख स्थान पर 18 एकड़ भूमि दी थी। उन्होंने कहा कि विगत 10 वर्षों के दौरान जब बादल परिवार सत्ता में था, तब उन्होंने नदियों के जल पर पंजाब के अधिकार संबंधी कभी सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर नहीं की तथा पंजाब के विरुद्ध हरियाणा सरकार की याचिका का कमज़ोर ढंग से बचाव करते रहे थे।

मान ने कहा बादल लम्बे समय से कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाते रहे हैं कि वह पंजाब के साथ सौतेला व्यवहार करती रही है तथा उसने नदी-जल विवाद संबंधी न्याय नहीं किया परन्तु अब विगत तीन वर्षों से इस मामले पर पूर्णतया चुप हैं, जब कि अब केन्द्र में उनकी भागीदार भारतीय जनता पार्टी का राज्य है। बहुत देर से कहीं जाकर बादल ने पंजाब के पानियों हेतु बड़ी कुर्बानियां देने की घोषणा की थी परन्तु वह 10 वर्षों तक सत्ता का आनंद लगातार मनाते रहे। मान ने प्रश्नों की बौछाड़ करते हुए कहा कि यदि उन्हें पंजाब के हितों का थोड़ा सा भी ख़्याल होता, तो उन्होंने इस मामले में भाजपा से अपना गठबन्धन क्यों न तोड़ा तथा ऐसे अपना ‘तथाकथित बलिदान’ क्यों न किया तथा उन्होंने पंजाब के साथ हुए अन्याय के कारण मोदी कैबिनेट से अपनी पुत्रवधु को वापिस क्यों नहीं बुलाया?

मान ने कहा कि 1982 में जब कांग्रेस हरियाणा एवं केन्द्र की सत्ता पर आसीन थी, जब तत्कालीन प्रधान मंत्री इन्दिरा गांधी ने इस विवादित नहर का शिलान्यास रखा था। कैप्टन अमरेन्द्र सिंह तब पटियाला से सांसद हुआ करते थे तथा वह उस समय कपूरी में हुए समारोह में न केवल सम्मिलित हुए थे, अपितु उन्होंने इस नहर के निर्माण की शुरूआत चांदी की कही से भूमि खोद कर की थी। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह तथा बादल दोनों ने पंजाब की जनता के विरुद्ध कार्य किए तथा अब वे यह सिद्ध करने का प्रयत्न कर रहे हैं कि पंजाब के मुक्तिदाता केवल वही हैं।

मान ने कहा कि हरियाणा में 2014 के विधान सभा चुनावों के दौरान शिरोमणी अकाली दल ने इण्डियन नैश्नल लोक दल का समर्थन किया था तथा चौटला एवं बादल परिवारों के बीच मित्रता किसी से छिपी हुई नहीं है। उन्होंने कहा कि अब सतलुज-यमुना संपर्क नहर का मुद्दा उठा कर यह पार्टियां पंजाब एवं हरियाणा की जनता को मूर्ख बना रही हैं। उन्होंने कहा कि वह इस नहर का मुद्दा ऐसे समय उठा रहे हैं, जब सर्वोच्च न्यायालय इस मामले की सुनवाई कर रहा है तथा पंजाब एवं हरियाणा की सीमा पर बिना मतलब तनाव वाला माहौल उत्पन्न किया जा रहा है। उन्होंने दोनों राज्यों के लोगों को अपील की कि वह शिरोमणी अकाली दल एवं इण्डियन नैश्नल लोक दल के स्वार्थी हितों से प्रेरित कार्यवाहियों से गुमराह न हों।

__________________________

Have something to say? Post your comment
More National News
किसान विरोधी बिल के खिलाफ 25 सितम्बर को ‘भारत बंद’ में शामिल रहेगी ‘सीवाईएसएस’
मोदी सरकार जनता की गाढ़ी कमाई से अखबारों में अंग्रेजी में विज्ञापन देकर अपना चेहरा चमका रही: राघव चड्ढा
किसानों के साथ भद्दा मजाक व फरेबी शरारत है गेहूं के दाम में मामूली वृद्धि - हरपाल सिंह चीमा
किसान बिल के विरोध में आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने पटना में किया विरोध प्रदर्शन
किसान विरोधी बिल पास कर भाजपा का किसान हितैषी चेहरा हुआ नंगा : काका बराड़
कृषि बिल पर केंद्र की मनमानी, किसानों के अस्तित्व को खतरा - ‘आप’
लगातार बढ़ रहा AAP का कुनबा, विकासनगर के लक्ष्मीपुर क्षेत्र में ‘आप’ कार्यालय का शुभारम्भ
AAP की मजबूती और 2022 में सरकार बनाने के लिए दिन-रात एक कर देंगे - हरचन्द सिंह बरसट
सांसद संजय सिंह पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किए जाने पर cyss ने खोला यूपी योगी के खिलाफ मोर्चा
‘आप’ प्रदेश उपाध्यक्ष भानुप्रकाश ने स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल को लेकर मंत्री टीएस पर किया पलटवार