Saturday, August 08, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
सीएम कैप्टन के तरनतारन दौरे पर विपक्ष का तीखा हमला, बहुत देर कर दी हजूर आते-आते - भगवंत मानदिल्ली में ईवी पाॅलिसी लागू, 2024 तक पंजीकृत होने वाले नए वाहनों में से 25% इलेक्ट्रिक के होंगे: सीएम अरविंद केजरीवालगांधी सेतु पर पैदल यात्रियों के लिए नए सीढ़ी निर्माण का आम आदमी पार्टी ने किया स्वागतदिल्ली सरकार के रोजगार पोर्टल पर 9लाख से अधिक नौकरियां, 8.64लाख लोगों ने किया आवेदन: गोपाल रायकेजरीवाल सरकार ने होटल व साप्ताहिक बाजार खोलने के लिए एलजी अनिल बैजल को दोबारा प्रस्ताव भेजाबच्ची के साथ हुई हैवानियत भरी घटना ने पूरी दिल्ली और पूरे समाज को झकझोर कर रख दिया है: राघव चड्ढादिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययनदिल्ली सरकार की बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम का 3दिवसीय ट्राॅयल आज से शुरू, 7अगस्त तक होगा ट्राॅयल
National

BJP शासित MCD के भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार, डॉक्टरों को वेतन दिलाने के लिए सड़क पर उतरेगी AAP

July 24, 2020 11:32 PM

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधायक राधव चड्ढा और आतिशी ने आज भाजपा शासित एमसीडी के भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार किया। राघव चड्ढा ने कहा कि अगले तीन दिनों के अंदर भाजपा शासित एमसीडी अपने डॉक्टरों को वेतन नहीं देती है, तो AAP सड़क पर उतर BJP शासित एमसीडी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी। एमसीडी ने मार्च महीने से अब तक हिन्दू राव और कस्तूरबा गांधी अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मियों का वेतन नहीं दिया है। राघव चड्ढा ने कहा कि आम आदमी पार्टी कोविड-19 महामारा के समय में राजधानी में स्वास्थ्य कर्मियों का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी। एमसीडी भारत का सबसे भ्रष्ट विभाग बन चुका है और सबसे बड़ा भ्रष्टाचार तंत्र है। MCD के इस भ्रष्टाचार में पूरी BJP लिप्त है, और यही कारण है कि वे अपने डॉक्टरों के वेतन का भुगतान नहीं कर पा रहे हैं। वहीं, आतिशी ने कहा कि दिल्ली सरकार MCD को जो पैसा देती है, उसे भी BJP के काउंसलर अपनी जेब में रख लेते हैं। भ्रष्टाचार की वजह से ही BJP के काउंसलरों के पास बहुत पैसा होता है, लेकिन एमसीडी के पास नहीं होता है।

इस महामारी में हमारे स्वास्थ्य कार्यकर्ता लोगों के लिए लगातार काम कर रहे हैं- राघव चड्ढा

पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए AAP के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा कि आज पूरी दुनिया कोरोना नाम की महामारी से जूझ रही है। ऐसी विपदा के समय में सबसे अहम भूमिका, जो हमारे सच्चे योद्धा हैं, जो इस कोरोना नामक राक्षस के सामने खड़े होकर रोज लड़ाई लड़ते हैं, वह हमारे स्वास्थ्य कर्मी, डॉक्टर, नर्स और अस्पताल में काम करने वाला हर एक कर्मचारी है। यह समाज की कोशिश है और होनी भी चाहिए कि हम अपने इन योद्धाओं का सम्मान करें और उनकी सभी जरूरतों को पूरा करने की कोशिश करें।

भाजपा शासित एमसीडी के अस्पतालों ने स्वास्थ्य कर्मियों को 4 महीने से वेतन नहीं दिया- राघव चड्ढा

राघव चड्ढा ने कहा कि परंतु यह जानकर आपको बेहद ही आश्चर्य होगा कि देश की राजधानी दिल्ली में दो बड़े अस्पताल हिन्दू राव एव कस्तूरबा गांधी अस्पताल, जो कि भाजपा शासित नगर निगम के अधीन आते हैं, इन अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मियों को मार्च महीने से लेकर अभी तक का उनके हक का पैसा, उनका वेतन नहीं दिया गया है। भारतीय जनता पार्टी राजनीतिक लाभ के कारण करोड़ों रुपया खर्च करके हेलीकॉप्टर के जरिए डॉक्टरों पर फूल बरसाने का काम तो करती है, परंतु 4 महीने से उनके हक का पैसा, उनका वेतन डॉक्टरों को नहीं दिया है।

एमसीडी का सारा पैसा भाजपा के काउंसलर अपनी जेब में रख लेते हैं- आतिशी

आम आदमी पार्टी की प्रवक्ता और विधायक आतिशी ने कहा कि बीजेपी शासित एमसीडी की सरकार ने दिल्ली के दो अस्पतालों, कस्तूरबा गांधी और हिन्दू राव अस्पताल के डाॅक्टरों की सैलरी अभी तक नहीं दी है। यह बहुत ही चिंता जनक बात है। खासकर, जब दिल्ली ही नहीं, बल्कि पूरे देश में कोरोना की महामारी चल रही है। ऐसे समय में जब डाॅक्टर अपनी जान की बाजी लगा कर और अपने आप को खतरे में डाल कर कोरोना के मरीजों को ठीक कर रहे हैं। हिन्दू राव अस्पताल तो कोविड अस्पताल भी है। ऐसे में यदि भाजपा शासित एमसीडी अपने डाॅक्टरों की सैलरी नहीं देती है, तो इससे ज्यादा गलत कुछ भी नहीं हो सकता है। रेजिडेंट डाॅक्टरों की सैलरी के जो पैसे थे, उसे दिल्ली सरकार पहले ही एमसीडी को दे चुकी है, लेकिन बीजेपी की एमसीडी में जो भ्रष्टाचार है, उसका कोई अंत नहीं है। बीजेपी के ही नेता विजय गोयल जी ने कहा था कि यदि हमसे एमसीडी के बारे में पूछा जाए, तो मै यही कहूंगा कि यहां पर भ्रष्टाचार है। नार्थ एमसीडी के कमिश्नर ने भी कहा था कि यहां बेइंतहा भ्रष्टाचार है, जो नार्थ एमसीडी का आँडिट हुआ, उसमें तीन हजार करोड़ से अधिक के वित्तीय गड़बड़ी पाई गई। साउथ एमसीडी में सवा हजार करोड़ का वित्तीय घालमेल मिला। एमसीडी के पास जो पैसा होना चाहिए, चाहे वह विज्ञापन से या पार्किंग आदि से, वो पैसा भाजपा के सारे काउंसलर अपनी जेब में रख लेते हैं। तभी ऐसे हालात आते हैं कि काउंसलर के पास बहुत पैसा होता है, लेकिन एमसीडी के पास कहते हैं कि पैसे नहीं है। दिल्ली सरकार जो पैसा देती है, उसको भी वो अपनी जेब में डाल लेते हैं। इसलिए हम डाॅक्टरों को सैलरी नहीं मिलने का कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। भाजपा को तुरंत प्रभाव से कस्तूरबा गांधी अस्पताल और हिन्दू राव अस्पताल के डाॅक्टर्स की सैलरी देनी चाहिए। 
 

एमसीडी सबसे भ्रष्ट विभाग हैं- राघव चड्ढा

राघव चड्ढा ने बताया कि दिल्ली में स्वास्थ्य के क्षेत्र में तीन प्रकार की व्यवस्थाएं हैं, कुछ अस्पताल केंद्र सरकार के अधीन आते हैं, कुछ अस्पताल दिल्ली सरकार के अधीन आते हैं और कुछ अस्पताल नगर निगम के अधीन आते हैं। अपने अधीन आने वाले अस्पतालों में तमाम तरह की सुविधाओं का प्रबंध करने की जिम्मेदारी संबंधित सरकार की होती है। उन्होंने कहा कि नगर निगम जो भ्रष्टाचार में सारी सीमाओं को पार करके एक नया कीर्तिमान स्थापित कर चुका है, जिसके बारे में खुद हाई कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि एमसीडी आज के समय में म्युनिसिपल कॉरपोरेशन डिपार्टमेंट नहीं बल्कि मोस्ट करप्ट डिपार्टमेंट हो गया है, वह एमसीडी जिसमें भाजपा की सरकार दशकों से स्थापित है, वह अपने अस्पताल के डॉक्टरों को वेतन नहीं दे पा रही है। भारतीय जनता पार्टी की नगर निगम ने बीते 4 महीने से नगर निगम के अधीन आने वाले कस्तूरबा गांधी अस्पताल एवं हिंदू राव अस्पताल के डॉक्टरों, नर्सों एवं अन्य कर्मचारियों का वेतन नहीं दिया है।

भाजपा भ्रष्टाचार में लिप्त है, इसलिए स्वास्थ्य कर्मियों का वेतन नहीं दे पा रही है- राघव चड्ढा

उन्होंने कहा कि ऐसा सिर्फ इसलिए है, क्योंकि जितना भी पैसा नगर निगम के पास आता है भाजपा उसे डकार जाती है। सारा पैसा भ्रष्टाचार में लिप्त भाजपा के नेता खा जाते हैं। उन्होंन कहा यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी मई 2019 में भाजपा शासित नगर निगम ने हिंदू राव अस्पताल के डॉक्टरों का 3 महीने का वेतन यह कहते हुए रोक दिया था, कि हमारे पास पैसा नहीं है। मजबूरन डॉक्टरों को दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा था। इसी प्रकार कुछ ही महीने पहले भाजपा शासित नगर निगम ने अपने अधीन आने वाले स्कूलों के अध्यापकों एवं अन्य कर्मचारियों का वेतन भी रोक लिया था। मजबूरन निगम के स्कूल के अध्यापकों को भी दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा। इन दोनों ही प्रकरण में नगर निगम को दिल्ली हाईकोर्ट से फटकार भी पड़ी थी।

भाजपा को डॉक्टरों के अधिकारों का हनन और उनका अपमान नहीं करना चाहिए- राघव चड्ढा

दिल्ली हाईकोर्ट के एक आदेश का हवाला देते हुए राघव चड्ढा ने कहा कि खुद हाई कोर्ट ने फटकार लगाते हुए नगर निगम को कहा है, कि नगर निगम अपनी नाकामियों के लिए हर बार दिल्ली सरकार को दोषी नहीं ठहरा सकती। अपनी नाकामियों का ठीकरा नगर निगम दिल्ली सरकार के सर पर नहीं छोड़ सकती। दिल्ली सरकार का काम मात्र थोड़ी सी राशि नगर निगम को देना है जो कि दिल्ली सरकार समय-समय पर देती आई है। हाईकोर्ट ने नगर निगम को फटकार लगाते हुए कहा है कि आप अपनी जिम्मेदारियों से नहीं भाग सकते हो।

उन्होंने कहा कि नगर निगम आज भ्रष्टाचार की एक श्रेष्ठ मशीन बन चुकी है, जिसके माध्यम से भाजपा इकट्ठा हुआ सारा पैसा हजम कर जाती है। मीडिया के माध्यम से भाजपा के लोगों से अपील करते हुए राघव चड्ढा ने कहा कि इस महामारी के समय में हमारे डॉक्टर, जो कोरोना की इस लड़ाई को एक योद्धा की तरह लड़ रहे हैं, आप उन्हें सम्मान नही देना चाहते ना दो, परंतु कम से कम उनके हक का पैसा उनका वेतन उनको समय पर दे दो।

भाजपा नेताओं ने भी स्वीकार किया है कि दिल्ली की एमसीडी भ्रष्ट हैं- राघव चड्ढा

भाजपा के एक बड़े नेता और राज्यसभा सांसद विजय गोयल जी के बयान का हवाला देते हुए राघव चड्ढा ने कहा कि जब एक मीडिया कर्मी ने नगर निगम के बारे में उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि आप मुझसे पूछोगे एमसीडी कैसी है तो मैं कहूंगा कि चोर है। उन्होंने कहा कि मुझे कोई इन्कार नहीं है कि नगर निगम चोर है। नगर निगम के भ्रष्टाचार का एक और तथ्य मीडिया के समक्ष रखते हुए उन्होंने कहा कि नगर निगम की एक इकाई में 230 इंजीनियर आते हैं। 230 में से मात्र 17 ऐसे इंजीनियर हैं जिनके खिलाफ चार्जशीट दायर नही है, बाकी सब के खिलाफ चार्जशीट दायर है।

‘आप’ तीन दिनों के अंदर डॉक्टरों को वेतन नहीं मिलने पर बीजेपी शासित एमसीडी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी- राघव चड्ढा

उन्होंने कहा कि भाजपा एक ऐसी पार्टी है जो सुर्खियां बटोरने के लिए झूठ मूठ का ढोंग करती है, हेलीकॉप्टर के द्वारा डॉक्टरों पर फूल बरसाती है, परंतु जब असल मुद्दा सामने आता है, डॉक्टरों के वेतन देने का मुद्दा सामने आता है, तो उनके हक का सारा पैसा खा जाती है। मीडिया के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी को चुनौती देते हुए राघव चड्ढा ने कहा कि यदि 3 दिन के भीतर निगम अस्पताल के कर्मियों का वेतन उनको नहीं दिया गया, तो आम आदमी पार्टी, भाजपा की ईट से ईट बजा देगी। आम आदमी पार्टी स्वास्थ्य कर्मियों के साथ अन्याय नहीं होने देगी।

Have something to say? Post your comment
More National News
सीएम कैप्टन के तरनतारन दौरे पर विपक्ष का तीखा हमला, बहुत देर कर दी हजूर आते-आते - भगवंत मान
दिल्ली सरकार ने टैक्स रिटर्न दाखिल नहीं करने पर 5584 कंपनियों को नोटिस भेजा
दिल्ली में ईवी पाॅलिसी लागू, 2024 तक पंजीकृत होने वाले नए वाहनों में से 25% इलेक्ट्रिक के होंगे: सीएम अरविंद केजरीवाल
गांधी सेतु पर पैदल यात्रियों के लिए नए सीढ़ी निर्माण का आम आदमी पार्टी ने किया स्वागत
दिल्ली सरकार के रोजगार पोर्टल पर 9लाख से अधिक नौकरियां, 8.64लाख लोगों ने किया आवेदन: गोपाल राय
केजरीवाल सरकार ने होटल व साप्ताहिक बाजार खोलने के लिए एलजी अनिल बैजल को दोबारा प्रस्ताव भेजा बच्ची के साथ हुई हैवानियत भरी घटना ने पूरी दिल्ली और पूरे समाज को झकझोर कर रख दिया है: राघव चड्ढा
पंजाब में ऑपरेशन न करने का फैसला लोक विरोधी, फैसला वापस ले कैप्टन सरकार: प्रिंसीपल बुद्ध राम
लोगों के साथ-साथ अपने सीनियर नेताओं का भी विश्वास खो चुके है अमरिन्दर सिंह सरकार - ‘आप’
दिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययन