Saturday, August 08, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
सीएम कैप्टन के तरनतारन दौरे पर विपक्ष का तीखा हमला, बहुत देर कर दी हजूर आते-आते - भगवंत मानदिल्ली में ईवी पाॅलिसी लागू, 2024 तक पंजीकृत होने वाले नए वाहनों में से 25% इलेक्ट्रिक के होंगे: सीएम अरविंद केजरीवालगांधी सेतु पर पैदल यात्रियों के लिए नए सीढ़ी निर्माण का आम आदमी पार्टी ने किया स्वागतदिल्ली सरकार के रोजगार पोर्टल पर 9लाख से अधिक नौकरियां, 8.64लाख लोगों ने किया आवेदन: गोपाल रायकेजरीवाल सरकार ने होटल व साप्ताहिक बाजार खोलने के लिए एलजी अनिल बैजल को दोबारा प्रस्ताव भेजाबच्ची के साथ हुई हैवानियत भरी घटना ने पूरी दिल्ली और पूरे समाज को झकझोर कर रख दिया है: राघव चड्ढादिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययनदिल्ली सरकार की बसों में ई-टिकटिंग सिस्टम का 3दिवसीय ट्राॅयल आज से शुरू, 7अगस्त तक होगा ट्राॅयल
National

मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ‘लीड पोर्टल’ लांच किया, ऑनलाइन मिलेगी शिक्षण सामग्री

July 04, 2020 09:06 AM

नई दिल्ली: डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कल शुक्रवार को दिल्ली सरकार का 'लीड' पोर्टल लांच किया। इसमें पहली से बारहवीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स के लिए लगभग 10000 से ज्यादा कोर्स मेटेरियल और शिक्षण सामग्री उपलब्ध होगी। 'लीड' यानी Learning through e-resources made accessible for Delhi के माध्यम से स्टूडेंट्स को सीबीएसई तथा एनसीईआरटी के साथ ही दिल्ली सरकार के पाठ्यक्रम की उपयोगी सामग्री मिलेगी। इनमें डिजिटल क्यूआर कोडेड टेक्स्टबुक, लर्निंग आउटकम, व्याख्यात्मक वीडियो, अभ्यास प्रश्नपत्र, मूल्यांकन इत्यादि शामिल होंगे।

श्री सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार के लिए शिक्षा सबसे बड़ी प्राथमिकता रही है, पिछले पांच सालों में हमने सभी बच्चों को बेहतर शिक्षा के लिए कई कदम उठाये हैं। मिशन बुनियाद, हैप्पीनेस क्लासेस, एंटरप्रेन्योरशिप माइंडसेट जैसी पहल ने शिक्षा को बच्चों के जीवन और जीने के तरीके से जोड़ने की कोशिश की है।

ई-लर्निंग कंटेंट को अपग्रेड करने के लिए दिल्ली SCERT ने 25 सदस्यीय कोर टीम बनाई, शिक्षक बदलते वक्त के साथ नई शिक्षण सामग्री लगातार तैयार करते रहें : डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया

 

श्री सिसोदिया ने कहा कि हमारा मानना है कि शिक्षण प्रक्रिया में टीचर्स अपने बच्चों के संदर्भ को समझते हुए लगातार नई और बेहतर सामग्री बनाते रहें, इसलिए हमारे टीचर्स क्लास में पढ़ाई जाने वाली टेक्स्टबुक के अलावा तमाम सपोर्ट मेटेरियल भी हर साल तैयार करते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली SCERT ने 25 सदस्यीय कोर टीम बनाई है। यह नियमित रूप से ई-लर्निंग कंटेंट को अपग्रेड करेगी।

श्री सिसोदिया ने कहा कि हम लीड पोर्टल के माध्यम से दीक्षा पोर्टल पर अपने सभी टीचिंग और ट्रेनिंग मटेरियल के साथ जुड़ रहे हैं। अब न सिर्फ हम सारे देश और दुनिया के साथ अपने प्रयोगों को शेयर कर सकेंगे, बल्कि देश भर में हो रहे शानदार प्रयोगों से भी हम सीख सकेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि आने वाले समय में लीड पोर्टल हमारी शिक्षा प्रणाली का मुख्य हिस्सा बनेगा।

श्री सिसोदिया ने इस सफलता के लिए दिल्ली SCERT और शिक्षा निदेशालय को बधाई दी, दीक्षा पोर्टल पर यह सुविधा उपलब्ध कराने के लिए NCERTऔर MHRD के प्रति आभार प्रकट किया और कहा कि लॉकडाउन के दौरान दिल्ली के स्टूडेंट्स के साथ ही उनके पेरेंट्स ने भी ऑनलाइन शिक्षण में काफी दिलचस्पी दिखाई है। इससे पूरा भरोसा जगा है कि लीड पोर्टल का सदुपयोग करते हुए बच्चे ई-लर्निंग रिसोर्सेस का लाभ उठाएंगे। आज 'लीड' पोर्टल लांचिंग के दौरान शिक्षा निदेशक बिनय भूषण, शिक्षा सचिव मनीषा सक्सेना तथा शिक्षा निदेशालय के अधिकारीगण मौजूद थे।

Have something to say? Post your comment
More National News
सीएम कैप्टन के तरनतारन दौरे पर विपक्ष का तीखा हमला, बहुत देर कर दी हजूर आते-आते - भगवंत मान
दिल्ली सरकार ने टैक्स रिटर्न दाखिल नहीं करने पर 5584 कंपनियों को नोटिस भेजा
दिल्ली में ईवी पाॅलिसी लागू, 2024 तक पंजीकृत होने वाले नए वाहनों में से 25% इलेक्ट्रिक के होंगे: सीएम अरविंद केजरीवाल
गांधी सेतु पर पैदल यात्रियों के लिए नए सीढ़ी निर्माण का आम आदमी पार्टी ने किया स्वागत
दिल्ली सरकार के रोजगार पोर्टल पर 9लाख से अधिक नौकरियां, 8.64लाख लोगों ने किया आवेदन: गोपाल राय
केजरीवाल सरकार ने होटल व साप्ताहिक बाजार खोलने के लिए एलजी अनिल बैजल को दोबारा प्रस्ताव भेजा बच्ची के साथ हुई हैवानियत भरी घटना ने पूरी दिल्ली और पूरे समाज को झकझोर कर रख दिया है: राघव चड्ढा
पंजाब में ऑपरेशन न करने का फैसला लोक विरोधी, फैसला वापस ले कैप्टन सरकार: प्रिंसीपल बुद्ध राम
लोगों के साथ-साथ अपने सीनियर नेताओं का भी विश्वास खो चुके है अमरिन्दर सिंह सरकार - ‘आप’
दिल्ली सरकार के राजस्व कलेक्शन में सुधार के लिए डीडीसी करेगी विस्तृत अध्ययन