Friday, April 10, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
कोरोना वॉरियर्स: अपने मुलाजिमों की मदद करने वाले को इनकम टैक्स में छूट दे सरकार - आम आदमी पार्टीराशन कार्ड के लिए आवेदन करने वालों को कल से स्कूलों में बांटा जाएगा राशन - अरविंद केजरीवालमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी विधायकों से की चर्चा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सहयोग भी मांगा'कोरोना वायरस' पर राजनीति करने की बजाए केजरीवाल सरकार से सबक लें कैप्टन अमरिंदर - भगवंत मानजिनके पास राशन कार्ड नहीं है, वे "ई-डिस्ट्रिक्ट" वेबसाइट पर आवेदन कर दें, सरकार देगी मुफ्त राशन - अरविंद केजरीवाललॉक डाउन में बेसहारा गरीबों के सहारा बने आम आदमी पार्टी के विधायकमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली छोड़कर जा रहे लोगों से अपील की कि "जो जहां है, वहीं रहे"ਕੋਰੋਨਾ ਵਾਇਰਸ ਨਾਲ 'ਗਰਾਊਂਡ ਜ਼ੀਰੋ' 'ਤੇ ਜੰਗ ਲੜਨ ਵਾਲਿਆਂ ਲਈ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਐਲਾਨ ਕਰੇ ਕੈਪਟਨ ਸਰਕਾਰ - ਆਪ
National

केजरीवाल सरकार ने जनता को कोरोना से उत्पन्न समस्या से राहत देने के लिए उठाए कई कदम

March 24, 2020 11:11 PM

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पिछले 40घंटे के दौरान कोरोना से ग्रसित एक भी नया मरीज नहीं आया है, यह बहुत ही राहत की बात है। उन्होंने कि दिल्ली सरकार कोरोना से उत्पन्न समस्या से लोगों को राहत देने के लिए कई कदम उठा रही है। सरकार ने निर्माण कार्य से जुड़े दिहाड़ी मजदूरों को एकमुश्त ₹5-5हजार सहायता राशि देने का फैसला किया है। दिल्ली में कोरोना अभी स्टेज-2 में हैं। भगवान न करे कि यह स्टेज-3 पर आए, लेकिन ऐसा होता है, तो इसकी तैयारियों के लिए डाॅ़ सरीन की अध्यक्षता में 5डाॅक्टरों की टीम की है। यह टीम 24घंटे में रिपोर्ट देगी कि स्टेज-3 के लिए कौन से कदम उठाए जाने चाहिए।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में रैन बसेरों की संख्या बढ़ाई जा रही है। साथ ही, गरीबों को खाना खिलाने के लिए केंद्र भी बढ़ा रहे हैं। सभी लोगों की जिंदगी बचानी जरूरी है, इसलिए लाॅकडाउन और कफ्र्यू जैसे कठोर कदम उठाने पड़ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कुछ समय के लिए किराया टालने और लाॅकडाउन के दौरान कर्मचारियों को पूरी तनख्वाह देने वालों का आभार जताया है। साथ ही मुख्यमंत्री ने नर्स, डाॅक्टर, पायलट और एयर होस्टेज के साथ भेदभाव और गलत व्यवहार करने वालों के प्रति कड़ी नाराजगी जताते हुए इसे गलत बताया है।

दिल्ली में 40घंटे में नहीं आया कोई नया केस, मरीजों की संख्या घट कर 23 हुई - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस वार्ता कर के कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाने और प्रभावित लोगों को राहत देने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले करीब 40घंटे में दिल्ली में कोरोना का एक भी नया गरीज सामने नहीं आया है। दिल्ली में अभी तक कुल 30मरीज सामने आए हैं। उनमें अब कमी आने लगी है। लोग ठीक होकर घर जाने लगे हैं। अब 23मरीज बचे हैं। यह अच्छी बात है कि पिछले 40घंटे में दिल्ली में एक भी नया मरीज सामने नहीं आया है। अभी हमें खुश होने की जरूरत नहीं है। अभी यह लड़ाई काफी बड़ी है। उसकी अभी तैयारी करने की जरूरत है। कभी भी यह संख्या बढ़ सकती है। कभी भी यह वायरस बुरी तरह से फैल सकता है। पिछले 24घंटे में इटली में 600 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। काफी विकसित देश अमेरिका में पिछले 24घंटे में 150 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। इतने बड़े और विकसित देश कोरोना के प्रकोप को रोक नहीं पा रहे हैं। हमने जितनी सतर्कता और मुस्तैदी से मिल कर काम किया है, अभी उतनी ही सतर्कता के साथ आगे भी काम करना पड़ेगा।

लाॅकडाउन के दौरान लोगों की मदद करने सामने आए बहुत सारे लोग, उनपर गर्व - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कल सोमवार(23मार्च) को दिल्ली में लाॅकडाउन किया गया और आज से दिल्ली में कफ्र्यू लागू किया है। मैं समझ सकता हूं कि आप लोगों को बहुत तकलीफ हो रही होगी। हम आपकी तकलीफें पूरी तरह से खत्म नहीं कर सकते हैं, लेकिन हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि आपकी तकलीफें कैसे कम हो, उस दिशा में कोशिश कर रहे हैं। इसके बाद भी आपको बहुत तकलीफ हो रही है, लेकिन आप सभी लोगों की जिंदगी बचाना बहुत जरूरी है। इसलिए इतने कठोर कदम उठाए जा रहे हैं। मैं जानता हूं कि आप को तकलीफ हो रही होगी और फिर आप तरह से आप साथ देंगे। मुझे बहुत खुशी है कि बहुत सारे लोग आज के वक्त एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं। यही हमारे भारत के लोगों की सबसे बड़ी ताकत है कि जब मुसीबत होती है, तो हम सारे लोग एक-दूसरे की मदद करते हैं। कल सोमवार को मैंने कहा था कि कई गरीब लोग ऐसे है, जो अपनी रोजी रोटी रोजना कमाते थे और खाते थे। वो किराए पर रहते हैं और अपना किराया नहीं दे पा रहे हैं। मेंने कहा था कि कोई भी किराएदार अपना किराया देने की स्थिति में नहीं है, तो मकान मालिक एक या दो महीने तक किराया लेना टाल दे। मै यह नहीं कह रहा हूं कि वह अपना किराया नहीं लेे, लेकिन दो महीने बाद ले लें या किस्तों में ले लें। मुझे बड़ी खुशी है कि कल से काफी लोगों के मैसेज आए हैं और उन्होंने कहा है कि मैं मार्च और अप्रैल का किराया नहीं लूंगा या बाद में लूंगा। मैं खासतौर से राज बैसला जी का जिक्र करना चाहूंगा। राज बैसला जी के कई सारे किराएदार हैं। उन्होंने कहा कि मैं मार्च का किराया नहीं लूंगा। अनिल कौसिक जी ने अपने ड्राइवर व अन्य कर्मचारियों को पूरी तनख्वाह दूंगा देने की बात कही है। वे अपने किराएदारों से किराया भी नहीं लेंगे। नवीन नंबरदार जी ने भी कहा है कि अपने किराएदारों से किराया नहीं लेंगे। आजाद सौकीन जी ने भी किराया नहीं लेने की बात कही है। ऐसे बहुत सारे लोगों के मेरे पास मैसेज आए हैं। मैं ऐसे सभी लोगों को बहुत बधाई देता हूं। आप लोग जो काम कर रहे हैं, वह पुण्य का काम है। यही सच्ची देशभक्ति का काम है। हम सारे देशवासियों को एक साथ मिल कर इसका मुकाबला करना है।

मुख्यमंत्री ने अस्पताल जाने के लिए साधन का इंतजार कर रहे मरीज को अस्पताल पहुंचाने वाले नार्थ ईस्ट दिल्ली के एडिशनल डीसीपी सुकांत की सराहना की

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सुकांत बल्लभ जी नार्थ ईस्ट दिल्ली के पुलिस मेंएडीशनल डीसीपी हैं। मैने उनकी कहानी पढ़ी कि किस तरह से जब लाॅकडाउन/कफ्र्यू था। उस समय एक व्यक्ति को डाॅयलसिस के लिए अस्पताल जाना था। उन्हें एंबुलेंस भी नहीं मिल रही थी और कोई साधन भी नहीं मिल रहा था। इस दौरान सुकांत जी ने अपनी गाड़ी में उस व्यक्ति को बैठा कर अस्पताल छोड़ा। जब इस तरह की कहानिया पढ़ते हैं और इस तरह की प्रेरणा मिलती है, तो बहुत खुशी होती है। यह बहुत कठिन समय है, इस कठिन समय में हम सभी को एक-दूसरे की मदद करनी है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैंने अपील की थी कि कोई भूखा नहीं रहना चाहिए। कोई भूख से नहीं मरना चाहिए। किसी को रोटी खिलाना बहुत ही पुण्य का काम है। सरकार तो कर रही है, हम लोगों ने बहुत जगह नाइट सेल्टर में खाना बांटने का काम किया है। लंच और डीनर दोनों दे रहे हैं। वहां बेघर लोग भी आ रहे हैं और अगर आपके पास खाने के लिए कुछ नहीं है तो आप किसी भी नाइट सेल्टर में जाकर खाना खा सकते हैं। मैने देखा है कि इस वक्त नाइट सेल्टर में भीड़ बहत ज्यादा होने लगी है। इसलिए रैन बसेरों की संख्या भी हम बढ़ा रहे हैं और कई नए स्थानों पर खाना बांटने की व्यवस्था भी कर रहे हैं। लेकिन मुझे बहुत खुशी है कि बहुत सारे लोग सामने आकर मदद करने की बात कही है। कोई कह रहा है कि वह दस हजार खाने के पैकेट बांटेगा।

गौरव राय का कहना है कि वह अपने पास की सभी झुग्गी झोपड़ियों की जिम्मेदारी लेते हैं और किसी को भी भूखे सोने नहीं देंगे। लोगों के इस तरह से सामने आने पर मुझे बहुत खुशी हो रही है। यही असली देशभक्ति है और यही असली पुण्य का काम है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप सभी लोगों को यह ठान लेना है कि मेरा पड़ोसी भूख नहीं सोना चाहिए। मेरे पड़ोस के तीन या चार घर भूखे नहीं सोने चाहिए। अगर दिल्ली में सभी लोग यह ठान लें कि मैं अपनी गली में किसी को भूखा सोने नहीं दूंगा, तो मैं समझता हूं कि कोई भूखा नहीं रहेगा और जो इतनी बड़ी कठिनाई हमारे सामने आ गई है, तो इस कठिनाई को बड़ी आसानी से झेल सकते हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डाॅक्टर-नर्स, पायटल- एयरहोस्टेज के साथ गलत व्यवहार करने पर जताया गहरा दुख

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इन सब के साथ एक दुख भी मुझे हैं और मैं आप लोगों के साथ अपना दुख साझा करना चाहता हूं। हम सब लोगों ने प्रधानमंत्री जी के आहवान पर रविवार को शाम 5बजे अपने अपने घरों की खिड़कियों और दरवाजों पर बाहर आकर तालियां और घंटियां बजाई थी। हमने इसलिए बजाई थी कि हम अपने डाॅक्टर के लिए शुक्र गुजार हैं, हम अपने सभी नर्सों के शुक्रगुजार हैं, हम उन सभी पायलट और एयर होस्टेज के शुक्रगुजार हैं, जो इतनी कठिन परिस्थितियों के अंदर उन देशों के हमारे लोगों को लेकर आए, जहां पर यह बीमारी फैली हुई थी। डाॅक्टर, नर्सेज, पायलट और एयर होस्टेज समेत सभी लोगों ने अपनी जान दांव पर लगाई है। हम उन सब लोगों के शुक्र गुजार हैं। हमने उन लोगों के लिए ताली बजाई। उन लोगों के लिए हमने घंटी बजाई। मुझे अब सुनने को मिल रहा है कि मकान मालिक ने अपने नर्स को निकाल दिया है। उसका कहना है कि यह नर्स को सारे दिन कोरोना के मरीज के बीच घमूती हैं। इसको मैं अपने घर में नहीं रहने दूंगा। कही पता चला है कि एयर होस्टेज और पायलट को काॅलोनी में घुसने नहीं दे रहे हैं। यह सही नहीं है और यह बिल्कुल गलत है। यह लोग आपके बच्चों और परिवार के लिए अपनी जान दांव पर लगा रहे हैं और हम लोग उनके साथ ऐसा व्यवहार कर रहे हैं। कल को आपके परिवार में किसी को करोना हो गया तो फिर आप किसके पास जाओगे। आप इन्हीं डाॅक्टर और नर्स के पास तो जाओगे। जिनके साथ हम आज इस तरह से व्यवहार कर रहे हैं। यह बिल्कुल सही नहीं है। हमें यह सोच पूरी तरह से बदलनी पड़ेगी। अगर किसी को करोना होता है तो उनका भी इलाज कराएंगे। किसी पायलट या एयर होस्टेज को होगा तो उसका भी इलाज कराएंगे। किसी डाॅक्टर को होगा, तो उसका भी इलाज कराएंगे। यह सभी अपने लोग हैं। अभी कोरोना उनको नहीं है तो इस तरह से भेदभाव करना और उनके साथ इस तरह का व्यवहार करना सही नहीं है। उनके लिए तालियां बजानी चाहिए। उनको नमस्कार करना चाहिए। उनका शुक्रिया करना चाहिए। अब आप लोग कसम खाइए कि अब इनके साथ ऐसा भेदभाव नहीं करेंगे और इस तरह का बिल्कुल भी व्यवहार नहीं करेंगे।

भगवान न करे कि दिल्ली स्टेज-3 में आए, फिर भी हम स्टेज-3 से निपटने के लिए कर रहे तैयारी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में अभी तक कुल 30मरीज हैं, लेकिन अभी हमें आगे की तैयारियां करनी है। हमें इस चीज की तैयारी करनी हैं कि कहीं यह महामारी बहुत ज्यादा बढ़ गई तो क्या हम उसके लिए तैयार हैं। हम इसकी कई दिनों से तैयारी कर रहे हैं। आज मैंने 5 बड़े-बड़े डाॅक्टरों की टीम बनाई है। बहुत प्रसिद्ध डाॅक्टर सरीन की अध्यक्षता में मैने पांच विशेषज्ञ लोगों की टीम बनाई है। वह मुझे अगले 24घंटे में पूरी योजना बना कर देंगे कि अगर दिल्ली स्टेज तीन में प्रवेश करता है और बीमारी पूरी तरह से फैल जाती है, तो क्या हम उसके लिए तैयार हैं। उसके लिए क्या-क्या कमिया हैं और क्या-क्या करने की जरूरत है। यह डाॅक्टर सरियन की टीम मुझे रिपोर्ट बना कर देगी। इसके बाद जो भी कमिया हैं, उन कमियों को हम लोग दूर करने की कोशिश करेंगे। हम अपनी तैयारी कर के रखते हैं। हम भगवान से यह प्रार्थना करते हैं कि ऐसी स्थिति कभी न आए और हम कभी स्टेज तीन में न जाएं। कभी महारमारी न फैले और 30 से अधिक केस न हो। फिर भी अगर हो जाता है, तो अपनी तैयारी तो रहेगी।

मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जितने भी निर्माण कार्य से जुड़े मजदूर हैं। हम लोगों ने यह तय किया है कि उन सभी लोगों को 5-5हजार रुपये देंगे। इस वक्त उनकी रोजी-रोटी चली गई है। यह सभी दिहाड़ी मजदूर थे। यह रोज कमाते थे और खाते थे। इन सभी निर्माण कार्य करने वाले मजदूरों को 5-5हजार रुपये दिया जाएगा। जैसा कि मैने बताया है कि दिल्ली में कई और नाइट सेल्टर खोल रहे हैं जहां पर खाने की अगर किसी को दिक्कत है तो वहां जाकर खाना खा सकता है। मुझे पूरा यकीन है कि जिस तरह से इस बीमारी का हम सभी लोग एकजुट होकर सामना कर रहे हैं। हम इस पर जरूर काबू पा लेंगे।

CM welcomed a list of people who have come forward in this fight to help the residents

Raj Bainsla has decided that he will not take the rent for the month of March from any of his tenants.

CM's Tweet: Raj Bainsla ji, your step is highly appreciated. At this time, we all have to work for each other and have to help each other. People like you are an inspiration to everyone. I also appeal to other landlords - if your tenant is unable to pay rent, then delay the collection.

Link: https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1242361231261831168


Anil Kaushik: He has decided not to take rent from his tenants and drivers for the months of March-April.

Link: https://twitter.com/anilkaushik07/status/1242397454089109509

Naveen Nambardar and Azad Shaukeen: They have also decided not to take rent of this month or the next month from his tenants.

Link: https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1242422336449478657

AD DCP North East Sukant Ballabh: He used his official car to transport an elderly man who needed dialysis urgently to the hospital.

CM Tweeted: Great Sukant ji. This is a time to show empathy and help fellow beings. Let's all help each other.

Link: https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1242358723592384512

 
Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली में 5-टी प्लान को अमल में लाकर जीतेंगे कोरोनावायरस से जंग - अरविंद केजरीवाल
दिल्ली सरकार ने माध्यमिक कक्षाओं के बच्चों के शिक्षण कार्य के लिए खान अकादमी के साथ किया करार, स्कूलों में ऑनलाइन कक्षाएं शुरू
सांसद संजय सिंह ने की अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के बयान की निंदा, बोले - 'ट्रंप की धमकी मोदी जी को नहीं, 135करोड़ भारतीयों को है'
राशन कार्ड के लिए आवेदन करने वालों को कल से स्कूलों में बांटा जाएगा राशन - अरविंद केजरीवाल
बेलगाम हुए शराब और केबल माफिया पर क्यों नहीं लगाम कस रही कैप्टन सरकार - हरपाल सिंह चीमा
थालियां बजाने और मोमबत्तियां जलाने जैसे जुमलों की बजाए लोगों की मुश्किलों के हल के लिए गंभीर हो सरकार - कुलतार संधवां
गुरुद्वारा मजनूं का टीला पर एफआईआर दर्ज करने में केजरीवाल सरकार का रत्तीभर भी सम्बन्ध नहीं - भगवंत मान
कोरोना से लड़ने के लिए वित्तीय सहायता न देकर दिल्ली के साथ राजनीति कर रही केंद्र सरकार - मनीष सिसोदिया
दिल्ली सरकार की कोशिश कोरोना न फैले, इससे मौतें न हो, मैं खुद एक-एक मरीज पर नजर रख रहा हूँ- अरविंद केजरीवाल
कोरोना ग्रस्त मृतकों के सुरक्षित और सम्मानजनक अंतिम संस्कार के लिए ऑर्डिनेंस जारी करे कैप्टन अमरिंदर सरकार - आप