Friday, April 10, 2020
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
कोरोना वॉरियर्स: अपने मुलाजिमों की मदद करने वाले को इनकम टैक्स में छूट दे सरकार - आम आदमी पार्टीराशन कार्ड के लिए आवेदन करने वालों को कल से स्कूलों में बांटा जाएगा राशन - अरविंद केजरीवालमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी विधायकों से की चर्चा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सहयोग भी मांगा'कोरोना वायरस' पर राजनीति करने की बजाए केजरीवाल सरकार से सबक लें कैप्टन अमरिंदर - भगवंत मानजिनके पास राशन कार्ड नहीं है, वे "ई-डिस्ट्रिक्ट" वेबसाइट पर आवेदन कर दें, सरकार देगी मुफ्त राशन - अरविंद केजरीवाललॉक डाउन में बेसहारा गरीबों के सहारा बने आम आदमी पार्टी के विधायकमुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली छोड़कर जा रहे लोगों से अपील की कि "जो जहां है, वहीं रहे"ਕੋਰੋਨਾ ਵਾਇਰਸ ਨਾਲ 'ਗਰਾਊਂਡ ਜ਼ੀਰੋ' 'ਤੇ ਜੰਗ ਲੜਨ ਵਾਲਿਆਂ ਲਈ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਐਲਾਨ ਕਰੇ ਕੈਪਟਨ ਸਰਕਾਰ - ਆਪ
National

आपकी सेहत के लिए लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर होगी सख्ती- अरविंद केजरीवाल

March 24, 2020 03:16 PM

नई दिल्ली(23मार्च): दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन का पालन नहीं करने वालों पर सख्ती करने की चेतावनी दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस बहुत खतरनाक है और गुणात्मक रूप से बहुत तेजी से फैलता है, ऐसे समय में लॉकडाउन करना बेहद जरूरी है। पहले दिन(सोमवार) कई लोगों ने लॉकडाउन का पालन नहीं किया। ऐसे लोगों पर अब सख्त कार्रवाई की जाएगी। दिल्ली में अभी तक कुल 30केस आ चुके हैं। जिसमें 7केस एक-दूसरे के संपर्क में आने के हैं, जबकि 23केस विदेश से आए लोगों के हैं। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों की परेशानी को देखते हुए मंगलवार से 25प्रतिशत की जगह 50प्रतिशत बसें सड़क पर उतरेंगी। मुख्यमंत्री ने मकान मालिकों से अपील की है कि ऐसे वक्त में वे अपने किराएदारों से किराया न लें, वे किराया एक माह बाद ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि मिड-डे-मील और आंगनबाड़ी के बच्चों के घर खाने के पैकेट भी भेजे जाएंगे। दिल्ली में सभी तरह की आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के मद्देनजर कल सोमवार को शाम 5बजे डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर दिल्ली के निवासियों को संबोधित किया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश और दिल्ली में कोरोना की वजह से जो स्थिति बनी हुई है, उसे देखते हुए हमें दिल्ली में लाॅकडाॅउन करना पड़ा है। सोमवार को सुबह 6बजे से दिल्ली में सभी गतिविधियों पर रोक लगाई गई है, और सिर्फ आवश्यक गतिविधियों को ही जारी रखा गया है। सभी लोगों को घरों में रहने की हिदायत दी गई है। किसी को घर से बाहर नहीं निकलना है। केवल खाने, दवाइयों, सब्जियों और दूध समेत आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति करने वाले लोग ही अपने घर से निकलेंगे और अपनी दुकान खोलेंगे। सब्जियों का ट्रांसपोर्ट, खाना या दवाइयों समेत आवश्यक वस्तुओं के उत्पादन से जुड़े लोग घर से बाहर निकलेंगे। इसके अलावा जिन लोगों को सामान खरीदना है, वो लोग निकलेंगे, अन्य लोग घर में ही रहेंगे। यह सोमवार सुबह 6बजे से लागू कर दिया गया है।

दुनिया के देशों से सबक लेकर समय से कदम उठाए जा रहे हैं - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लाॅकडाॅउन का ज्यादातर लोग पालन कर रहे हैं, लेकिन बहुत से लोग पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे लोगों से कहना चाहता हूं कि वे यह अच्छी तरह से समझ लें कि हमें लॉकडाउन क्यों करना पड़ा है? आप लोगों को तकलीफ पहुंचाने की हमारी कोई इच्छा नहीं है? यह आपकी सेहत, आपकी जिंदगी और आपके परिवार, आपके बच्चों और उनकी जिंदगी के लिए कर रहे हैं। कोरोना वायरस बहुत ही खतरनाक वायरस है, यह पूरी दुनिया में फैल चुका है। पूरी दुनिया के अंदर तबाही मचा चुका है। पिछले कुछ दिनों से हम देख रहे हैं कि दुनिया के सबसे विकसित और काफी आधुनिक देशों में हजारों लोगों की मौत हो चुकी है। यह नया वायरस है, इसके बारे में बहुत ज्यादा हमें पता नहीं है। इसके बारे में बहुत ज्यादा अध्ययन नहीं हुआ है। हमारी किस्मत अच्छी है कि भारत में यह वायरस थोड़ी देर से आया है। इसलिए दूसरे देशों में इस वायरस से क्या-क्या समस्याए आई। दूसरे देशों ने इस वायरस से निपटने के लिए क्या-क्या कदम उठाए, उससे हमें सीखने की जरूरत है और उनसे सीख कर हम लोगों कई सारे कदम उठाए हैं। अगर हम उनसे नहीं सीखेंगे तो हमसे बेवकूफ कोई नहीं होगा।

गुणात्मक रूप से फैलता है कोरोना का वायरस, समय रहते रोकने के लिए किया लॉकडाउन- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह वायरस बहुत तेजी से फैलता है। अगर इसे रोकने के लिए सख्त कदम नहीं उठाए गए, तो कुछ दिनों के अंदर काफी ज्यादा गुणात्मक रूप में बढ़ जाता है। उन्होंने इटली व अमेरिका का उदाहरण देते हुए बताया कि इटली में आज से एक माह पहले 23फरवरी को मात्र 100केस थे और आज इटली में 40हजार से अधिक केस हैं। एक महीने में वहां 5हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में 29फरवरी को केवल 68केस थे और एक आदमी की मौत हुई थी। आज अमेरिका में 35हजार से अधिक केस हैं और 418 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इसलिए कोई इस गलतफहमी में न रहे कि उसे नहीं हो सकता है। यह वायरस, ,आदमी- औरत और अमीर-गरीब नहीं देखता है। इसको फैलने से रोकने के लिए यही तरीका है। किसी तरह लाॅक डाॅउन कर के थोड़े दिनों तक अपने-अपने घरों में बैठा जाए और फैलने की इसके चेन को बंद किया जाए। इसलिए हमें दिल्ली को लॉकडाउन करने की जरूरत पड़ी है।

दिल्ली में कोरोना नियंत्रण में है, अभी मात्र 30 केस- अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज तक दिल्ली में 30केस आए हैं, इनमें से 23 ऐसे हैं जो विदेशों से लोग आए थे और वो बाहर से वायरस लेकर आए थे। इन 23लोगों ने अपने-अपने घरों के अंदर 7 और लोगों को बीमार किया है। इससे लगता है कि दिल्ली की स्थिति अभी नियंत्रण में है, जो अच्छी बात है, लेकिन अभी पीठ थपथपाने की बात नहीं है। अभी हमें इसे और नियंत्रित करने की जरूरत है। यदि हमने इसे नियंत्रित कर लिया, तो बहुत अच्छा होगा। उन्होंने कहा कि मान लीजिए आज हम लाॅक डाॅउन नहीं करते हैं। इसे नियंत्रित नहीं करते हैं और यह फैल जाता है। दिल्ली में अगले कुछ दिनों के अंदर 15 से 20हजार केस हो जाते हैं, तो हमारे अस्पतालों के अंदर इतनी जगह नहीं होगी। दिल्ली के सभी अस्पातलों के बेड कम पड़ जाएंगे। अगर यह इतने ज्यादा फैल गए, तब भी हमें लाॅक डाॅउन करना पडेगा। तब इसका कोई फायदा नहीं होगा। उसके बाद जब अस्पतालों के अंदर इतने बेड ही नही बचेंगे तब सोचिए कि लोगों की जान बचानी कितनी मुश्किल होगी और कितने लोगों की मौत हो सकती है।

आज से लॉकडाउन का पालन नहीं करने पर होगी सख्ती - अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने इसे नियंत्रित करने के लिए अपनी(सरकार की) सारी ताकत लगा दी है। केंद्र और राज्य सरकारें इसको रोकने के लिए हर कोशिशें कर रही हैं। इसमें आप सभी लोगों का साथ चाहिए, आप सभी लोग आज के बाद लॉकडाउन का पूरा पालन करेंगे। आज से लॉकडाउन लागू हुआ। हो सकता है कि आज आप लोग बहुत जरूरी काम से बाहर निकले हों, लेकिन कल से बहुत सख्ती से इसका पालन कराया जाएगा। लाॅक डाॅउन का पालन नहीं करने पर सरकार को आपके साथ सख्ती करनी पड़ेगी और हम आपके साथ सख्ती करेंगे। यह आपकी जिंदगी बचाने के लिए कर रहे हैं, ताकि आपको कोरोना न हो। इसलिए भी कि दूसरों को भी कोरोना न हो। इसलिए अब हम सख्ती करेंगे तो बुरा मत मानिएगा।

रैन बसेरे में दोपहर और रात में मिल रहा है खाना, कोई भी खा सकता है, मिड डे मिल का खाना घर पहुंचेगा- अरवविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस दौरान गरीबों को बहुत मार पड़ रही है। गरीब लोग रोज काम करते थे और खाते थे। उन लोगों को बहुत परेशानी हो रही है। उन लोगों के लिए हमने कई सारे कदम उठाए हैं और आने वाले समय में और भी कदम उठाए जा सकते हैं। हम नहीं चाहते हैं कि एक तरफ आपको कोरोना से बचाएं और दूसरी तरफ आप भूखमरी से मर जाएं। मैंने एलान किया था कि 72लाख लोगों को, हर व्यक्ति को 7.5किलो गेहूं और चावल मुफ्त दिया जा रहा है। बुजुर्गों, विधवाओं और विकलांगों को ₹4000 से 5000 पेंशन दें रहे हैं। हमारे जितने भी रैन बसेरें हैं, उनमें दोपहर और रात का भोजन मुफ्त में दिया जा रहा है। किसी को भी खाने की दिक्कत है, तो वह वहां जाकर खा सकता है। मैं समझता हूं कि 72लाख लोगों के घर में राशन पहुंच जाएगा, तो किसी को खाने की दिक्कत होनी चाहिए। यह राशन 30मार्च तक दुकानों में पहुंच जाएगा। सभी लोग अपना कार्ड दिखा कर राशन ले सकते हैं। 8.5 लोगों के खाते में 7अप्रैल तक ₹4000 से ₹5000हजार पेंशन पहुंच जाएगी। इसके अलावा हमें मिड-डे-मील और आंगनबाड़ी हमें बंद करनी पड़ी थी, अब हम उन बच्चों के घर खाने के पैकेट भेजेंगे। इस कदम से लगभग सभी गरीब लोगों को मदद मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने लोगों से की एक-दूसरे की मदद करने की अपील

मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल ने कहा कि कई लोगों के सरकार की मदद के लिए फोन आ रहे हैं। हमें सबकी मदद चाहिए। पूरे समाज और सरकार को मिल कर काम करना पड़ेगा। जब पूरी दुनिया के अंदर हलचल मची हुई है, पूरी दुनिया खतरे में है। हमें इंसानियत दिखाने का यही वक्त है। मेरी आप सभी लोगों से विनती है कि हो सके तो आप लोग जितने लोगों को हो सके, उन्हें भूख से मरने मत देना। भगवान ने आप को पैसा दिया है, तो इसी दिन के लिए दिया है कि किसी के काम आएगा। जितना हो सके, अपने जान-पहचान वालों को आश्वस्त करिए कि वह भूख से नहीं मरे। इसके अलावा, आपके जितने कर्मचारी हैं। आपके घर में आया, कुक, नौकर काम करते हैं, आपके दफ्तर में जितने लोग काम करते हैं, आपके फैक्ट्री में दिहाड़ी, ठेका और मजदूरी करने वाले जितने लोग हैं, उनमें से किसी की तनख्वाह मत काटिएगा। यह बहुत पाप होगा। इस पर सरकार भी सख्ती करेगी। संभव हो सके तो कर्मचारी को थोड़ा एडवांस दे दीजिएगा, ताकि ऐसे वक्त में उसके घर का खर्चा चल सके।

आवश्यक वस्तुएं के उत्पान व बिक्री पर रोक नहीं- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में बहुत सारे लोग किराए पर रहते हैं। मेरी सभी मकान मालिकों से अपील है कि अगर वह किराया नहीं दे पा रहा है, तो एक या दो माह बाद ले लेना। उससे किराया किस्तों में भी ले सकते हैं, लेकिन अभी लोगों की रोजी-रोटी चली गई है, उनसे किराया मत लेना। कुछ लोगों ने पूछा है कि वे मास्क, सैनिटाइजर आदि बनाते हैं, तो क्या वो फैक्ट्री चला सकते हैं? इस पर मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि दवाइयां, मेडिकल उपकर या मास्क-सैनिटाइजर बनाने वाली सभी दुकानें खुलेंगी, इनका ट्रांसपोर्टेशन भी होगा और इसके उत्पादन की भी अनुमति है। इस पर कोई दुविधा नहीं होनी चाहिए। खाने की वस्तुएं, जिसमें दूध का ट्रांसपोर्टेशन भी होगा। जो किसान दूध निकाल कर प्लांट तक ले जाते हैं, वे भी लेकर जा सकते हैं और दूध के प्लांट भी चलेंगे और उसकी बिक्री भी होगी। सब्जियों की दुकानें भी खुलेगी और बिक्री भी होगी। किसान सब्जियां मंडी में भी लेकर जाएंगे और वहां सब्जियां बिकेंगी। खाने-पीने समेत अन्य आवश्यक गतिविधियां जारी रहेंगी। इस पर कोई दुविधा नहीं होनी चाहिए।

जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को परेशान न हो, मंगलवार से 50प्रतिशत डीटीसी बसें चलेंगी- अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जानकारी मिली है कि कई अस्पतालों, बिजली और जल बोर्ड समेत आवश्यक सेवाओं में शामिल लोगों को ड्यूटी पर पहुंचने में आज दिक्कत आई है। क्योंकि हमने ट्रांसपोर्ट बहुत कम कर दिया है। यह देखने को मिला है कि यह कर्मचारी अधिकतर बसों में यात्रा करते हैं। कल इसको कम कर के 25प्रतिशत कर दिया था, जिसमें हम बढ़ा रहे हैं। मंगलवार(24मार्च) से 50प्रतिशत बसें चलेंगी। हालांकि ज्यादातर खाली चलेंगी। मुझे लगता है इससे लोगों को काफी सहूलियत मिलेगी और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को घर से आने-जाने के लिए किसी को दिक्कत नहीं होगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी लोगों से अपील की कि लॉक डाॅउन के दौरान सरकार का साथ दें। हम सब मिल कर 10लोगों की भी जान बचा पाए, तो मुझे लगता है कि हमारा यह कदम सफल हो जाएगा।

 
Have something to say? Post your comment
More National News
दिल्ली में 5-टी प्लान को अमल में लाकर जीतेंगे कोरोनावायरस से जंग - अरविंद केजरीवाल
दिल्ली सरकार ने माध्यमिक कक्षाओं के बच्चों के शिक्षण कार्य के लिए खान अकादमी के साथ किया करार, स्कूलों में ऑनलाइन कक्षाएं शुरू
सांसद संजय सिंह ने की अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के बयान की निंदा, बोले - 'ट्रंप की धमकी मोदी जी को नहीं, 135करोड़ भारतीयों को है'
राशन कार्ड के लिए आवेदन करने वालों को कल से स्कूलों में बांटा जाएगा राशन - अरविंद केजरीवाल
बेलगाम हुए शराब और केबल माफिया पर क्यों नहीं लगाम कस रही कैप्टन सरकार - हरपाल सिंह चीमा
थालियां बजाने और मोमबत्तियां जलाने जैसे जुमलों की बजाए लोगों की मुश्किलों के हल के लिए गंभीर हो सरकार - कुलतार संधवां
गुरुद्वारा मजनूं का टीला पर एफआईआर दर्ज करने में केजरीवाल सरकार का रत्तीभर भी सम्बन्ध नहीं - भगवंत मान
कोरोना से लड़ने के लिए वित्तीय सहायता न देकर दिल्ली के साथ राजनीति कर रही केंद्र सरकार - मनीष सिसोदिया
दिल्ली सरकार की कोशिश कोरोना न फैले, इससे मौतें न हो, मैं खुद एक-एक मरीज पर नजर रख रहा हूँ- अरविंद केजरीवाल
कोरोना ग्रस्त मृतकों के सुरक्षित और सम्मानजनक अंतिम संस्कार के लिए ऑर्डिनेंस जारी करे कैप्टन अमरिंदर सरकार - आप