Thursday, July 18, 2019
Follow us on
Download Mobile App
National

सरासर धक्केशाही है किसानों की मुआवजा राशि से टीडीएस काटना -भगवंत मान

May 04, 2019 10:39 PM

चंडीगढ़,आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के प्रधान और संसद मैंबर भगवंत मान करतारपुर साहिब मार्ग (कोरीडोर) के लिए सडक़ के निर्माण के लिए अक्वायर की गई जमीन मालिक किसानों की मुआवजा राशि से टीडीएस (टैकस) काटे जाने का जोरदार विरोध किया है। राज्य और केंद्र की सरकारों से मांग की है कि वह विरोधी फैसले किसानों पर न थोपें जो पहले ही गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहे हैं।

    पार्टी के मुख्य दफ्तर द्वारा जारी बयान में भगवंत मान ने कहा कि पंजाब की कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार व केंद्रीय की नरिन्दर मोदी सरकार किसानों के साथ दुश्मनों वाला व्यवहार कर रही हैं। वायदे कर सभी कर्जे माफ नहीं किए। गन्ने का अरबों रुपए की बकाया राशि जारील नहीं की जा रही। स्वामीनाथन सिफारिशें लागू करने के उलट कम से कम समर्थन मूल्य में भी बदरंग दाने के नाम पर प्रति क्विंटल 4.60 रुपए की कटौती की जा रही है, जबकि अब श्री करतारपुर साहिब कोरीडोर के लिए अपनी जमीनें समर्पित करने वाले किसान मालिकों के मुआवजा राशि से टैकस काटा जा रहा है, जो सही नहीं है।

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के प्रधान और संसद मैंबर भगवंत मान करतारपुर साहिब मार्ग (कोरीडोर) के लिए सडक़ के निर्माण के लिए अक्वायर की गई जमीन मालिक किसानों की मुआवजा राशि से टीडीएस (टैकस) काटे जाने का जोरदार विरोध किया है।

भगवंत मान ने मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और अकाली दल बादल की तरफ से मोदी सरकार में मंत्री हरसिमरत कौर बादल पर तंज कसते कहा कि निजी राजनैतिक स्वार्थों के लिए कैप्टन और बादल परिवार कांग्रेस के स्टार प्रचारक और मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के साथ श्री करतारपुर साहिब के मार्ग का सेहरा अपने सिर बांधने के लिए एक-दूसरे से आगे भाग रहे थे, अब इन किसानों की मदद करने लिए आगे क्यों नहीं आ रहे। मान ने इस मामले पर कैप्टन और बादलों की चूप्पी को दुर्भागयापूर्ण करार दिया।
    इसके साथ ही मान ने राज्य सरकार पर आरोप लगाए कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह भी प्रधान मंत्री मोदी की तरह किसानों के हक और हितों के लिए डटने की बजाए शुगर मिल मालिकों के साथ जा मिले। मान ने गन्ना उत्पादक किसानों समेत समूह पंजाबियों से अपील की है कि वोट मांगने आए कांग्रेसियों और अकाली-भाजपा उम्मीदवारों और नेताओं को 2-2 साल पुरानी बकाया राशि के बारे में जरूर पूछें और स्पष्ट कहें कि वोट भी अब धनाढ् मिल मालिकों से ही लें। 

Have something to say? Post your comment
More National News
बोल रहे है 'आप' विधायक के काम
'आप' के बिजली आंदोलन का 24 जून को होगा जिला स्तर से अगाज
AAP के 10 दिनों के जनमत संग्रह में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की योजना के पक्ष में 90.8% लोग: गोपाल राय
नगर निगम चुनाव में AAP को हराने के लिए बीजेपी-कांग्रेस ने किया गठबंधन
शीला दीक्षित का शासन होता तो बिजली में ही लुट जाती 'दिल्ली'
दलित विद्यार्थियों का भविष्य तबाह करने पर तुले कैप्टन और मोदी की सरकारें -हरपाल सिंह चीमा
बढ़ौतरी की गई बिजली दरों को कम करने की चेतावनी के साथ 'आप' ने बिजली आंदोलन-2 शुरु करने का किया ऐलान
दिल्ली बोली : ऐसा सिर्फ अरविंद ही सोच और कर सकते हैं
देवली विधानसभा के लोगों को चार महीने में मिलने लगेगा सोनिया विहार का पानी : अरविंद केजरीवाल
सत्ता पाने के लिए नीचता की सारी हदें पार कर के गौतम गंभीर देश की संसद में जाना चाहते हैं लानत है ऐसे व्यक्ति पर :मनीष सिसोदिया