Wednesday, November 21, 2018
Follow us on
Download Mobile App
BREAKING NEWS
सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षरआप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरीकिसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तारअनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमतिबेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौरकर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायणराजस्थान की राजनीति में तूफान, प्रदेश के बड़े किसान नेता भाजपा छोड़ ’आप’ में शामिल
National

सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के नए हस्ताक्षर

November 04, 2018 10:57 PM

विश्वभर में अब यह ब्रिज बनेगा दिल्ली की नई पहचान

मुख्यमंत्री ने कहा तमाम बाधाओं के बावजूद हुआ काम पूरा, उपमुख्यमंत्री को दिया श्रेय

 यमुना नदी पर बहु प्रतीक्षित सिग्नेचर ब्रिज यानि दिल्ली के गौरव का रविवार शाम को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोकार्पण किया। सोमवार से आम लोगों के लिए यह ब्रिज आम जनता के लिए खुल जाएगा। इस मौकेपर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की असली तरक्की मंदिर, मस्जिद या स्टैच्यू बनाने से नहीं, गांव गांव में स्मार्ट क्लास रूम और मोहल्ला क्लीनिक बनाने से होगी। उन्होंने इस ब्रिज के निर्माण में बाधाएं डालने के आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी आड़े हाथ लिया।

अरविंद केजरीवाल ने देशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि यह ब्रिज केवल दिल्ली ही नहीं पूरे देश में अपनी पहचान बनाएगा। आज जब पर्यटक विदेश से आता है तो उसकी लिस्ट में सबसे पहले ताजमहल का नाम होताहै। उन्होंने उम्मीद जताई कि अब नंबर एक या दो पर सिग्नेचर ब्रिज हुआ करेगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के ब्रिज में यह दुनिया का सबसे उंचा ब्रिज है। इसकी उंचाई 154 मीटर है।

अरविंद केजरीवाल ने चार दिन पहले सरदार पटेल की प्रतिमा के लोकार्पण को लेकर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे उंचे स्टैच्यू का लोकार्पण हुआ है, अब यह जनता को तय करना है कि इस देश कोबेहतर पुलों की जरुरत है या इस तरह के स्टैच्यू की। उन्होंने कहा कि इस ब्रिज के निर्माण में तमाम तरह की अड़चने डाली गई, इसके बाद भी यह बनकर तैयार हुआ। उसकी वजह केवल दिल्ली सरकार की ईमानदारी है। यदि दिल्ली सरकार ईमानदार नहीं होती तो इसे बनने में कई साल और लग जाते। उन्होंने कहा कि पुल का विकास बाधित हो इसके लिए सीबीआई की धमकी दी गई लेकिन हमें सीबीआई से अब डर नहीं लगता क्योंकिहम ईमानदार है।

मनीष सिसोदिया की वजह से पूरा हो सका ये ब्रिज

केजरीवाल ने इस ब्रिज के पूरा होने में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के योगदान की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि उनकी वजह से ये पुल बन सका। उन्होंने हर हफ्ते इस ब्रिज की प्रगति का जायजा लिया।अफसरों और इंजीनियरों से मिले। बेधड़क होकर फाइलों पर आदेश दिए। सीएम केजरीवाल ने इस मौके पर देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर नेहरू को याद किया। उन्होंने कहा कि नेहरू जी की सोच के कारण इसदेश ने तरक्की की। उनकी सोच की वजह से ही देश आधुनिक भारत बन सका। पंडित नेहरू के विजन की वजह से ही स्टील ऑफ ऑथरिटी, आईआईटी खड्गपुर आईआईएम कोलकाता, अहमदाबाद जैसी संस्थाओं की स्थापना हुई। उन्होंने कहा कि यदि पंडित नेहरू ये संस्थाएं नहीं बनाते और इनकी जगह मंदिर मस्जिद या स्टैच्यू बनाते तो आज देश की प्रगति का क्या हश्र होता।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने 8000 क्लास रूम बनाए 10 हजार और बनाए जा रहे हैं। इसी तरह मोहल्ला क्लीनिक और देश के दूसरे सबसे बड़े अस्पताल का निर्माण हो रहा है। यह देश की असली तरक्की की पहचान है। ऐसे ही स्कूल और क्लीनिक गांव गांव में बने तभी देश की प्रगति होगी। केजरीवाल का सपना: सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि सिग्नेचर ब्रिज का निर्माण भारतीय इंजीनियरों ने जापान, इटली और फ्रांस के तकनीकी सहयोग से किया है। अब उनका सपना है कि देश में साइंस इतनी तरक्की करे कि भविष्य मेंजब कभी इटली, फ्रांस या जापान में इस तरह का ब्रिज बने तो वहां भारतीय इंजीनियर तकनीकी सहयेग करें।

खूब बाधाएं डाली पर आज उद्घाटन होता देख खिसियानी बिल्ली खंभा नोच रही है, सिसोदिया

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोसिदया इस मौके पर जमकर गरजे। उन्होंने कहा कि करीब 14 साल के इंतजार के बाद दिल्ली वासियों को यह सिग्चेर ब्रिज मिला है। यह ब्रिज आम आदमी पार्टी की सरकार केकार्यकाल में पूरा नहीं हो इसके लिए तमाम तरह की बाधाएं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से डालने का प्रयास किया गया। अफसरों और ठेकेदारों को सीबीआई की धमकी दी गई। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी केजरीवाल सरकार की ईमानदारी और साफ मंशा के चलते ये ब्रिज बनकर तैयार हुआ।

उन्होंने कार्यक्रम के दौरान बिन बुलाए पहुंचे सांसद मनोज तिवारी को भी आड़े हाथ लिया, उन्होंने काह कि पीएम मोदी या मनोज तिवारी की ओर से इसके निर्माण में एक इंच भी सहयोग मिला होता तो वे स्वयं मोदी जी केनारे लगाते और उन्हें उद्घाटन के लिए बुलाते। उन्होंने कहा कि जानबूझकर दिल्ली सरकार ने सांसद और भाजपा के जनप्रतिनिधियों को

...

Have something to say? Post your comment
More National News
भाजपा सांसद का सिग्नेचर ब्रिज उद्घाटन समारोह में हंगामा
आप में शामिल हुए राजोरिया, मुरैना से मिला था बसपा का टिकट
महिलाओं ने लोकसभा चुनावों में 'आप' को वोट देने का किया आह्वान
नगर-निगम के स्कूलों की बुरी हालत पर भाजपा को घेरा
28 को होने वाली केजरीवाल की जयपुर जनसभा को मिली मंजूरी
किसान विरोधी भाजपा सरकार का चेहरा हुआ बेनकाब, राजस्थान में आप नेता एवं किसान महापंचायत के अध्यक्ष रामपाल जाट और सैकड़ो आप कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार
अनुमति के बिना जारी है रामपाल जाट का अनशन बौखलाई वसुंधरा सरकार, नहीं दे रही है अनुमति
बेइन्साफी का शिकार हैं आशा, आंगनवाड़ी, मिड -डे-मील और ईजीएस वर्कर -प्रो. बलजिन्दर कौर
कर्मचारियों को नौकरी से निकालना खट्टर सरकार की तानाशाही : ओमनारायण
राजस्थान की राजनीति में तूफान, प्रदेश के बड़े किसान नेता भाजपा छोड़ ’आप’ में शामिल